क्या इनेलो सुप्रीमो ओपी चौटाला हमेशा के लिए जेल से आ जाएंगे बाहर ?

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 20 Feb, 2019

इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला द्वारा हाईकोर्ट में तिहाड़ जेल से अपनी रिहाई को लेकर एक याचिका दायर की गई है। चौटाला ने इस याचिका में केंद्र सरकार के उस नोटिफिकेश का हवाला दिया है, जिसमें 60 वर्ष के ऊपर पुरुष कैदियों की रिहाई की बात कही गई है।

पूर्व सीएम ओपी चौटाला की याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस सिद्धार्थ मृदुल और प्रदीप जलान की बेंच ने दिल्ली सरकार से कहा है कि याचिका पर चार दिनों के अंदर फैसला करें। इस पर दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा ने आश्वस्त किया है कि वह चौटाला की याचिका पर विचार करेगी।

बता दें कि इनेलो सुप्रीमो व पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला जेबीटी शिक्षक भर्ती घोटाले में दोषी करार दिए गए थे और जेल में सजा काट रहे थे।

अब चौटाला की ओर से वरिष्ठ वकील एन हरिहरन और अमित साहनी ने कहा है कि केंद्र सरकार के विशेष माफी संबंधी नोटिफिकेशन के तहत 60 साल के ऊपर के पुरुष कैदियों, 55 के ऊपर महिला और ट्रांसजेंडर कैदियों की बात कही गई है। जहां ओपी चौटाला की उम्र 83 साल हो गई है। उन्होंने अपनी सजा की आधी अवधि पूरी कर ली है।

नोटिफिकेशन के मुताबिक 70 फीसदी से ज्यादा उन दिव्यांगों की भी रिहाई की जा सकती है, जिन्होंने अपनी सजा की आधी अवधि पूरी कर ली है।

वरिष्ठ वकील अमित साहनी का कहना है कि ओपी चौटाला को भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत 10 साल की सजा मिली है। चौटाला की उम्र 83 है और वह अप्रैल 2013 तक 60 फीसदी दिव्यांगतां हैं। बाद में जून 2013 में पेस मेकर लगाया गया, जिसके बाद वह 70 फीसदी दिव्यांगतां के शिकार हैं। इसलिए वे दो वर्गों में रिहाई के हकदार हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *