बढ़ सकती है दालों की कीमत, किसानों को होगा फायदा

Breaking चर्चा में हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

New Delhi, 31 Jan, 2019

पिछले साल सरकार ने चालू वित्त वर्ष में सिर्फ दो लाख टन तुअर, उड़द व मूंग दाल तीन लाख टन आयात करने की सीमा तय कर दी थी, लेकिन अब सुप्रीम कोर्ट ने दालों का आयात पर जारी रोक के गुजरात हाई कोर्ट के फैसले पर अपनी सहमति जताई है।

बता दें कि कोर्ट के इस फैसले से देश में दालों की कीमतें बढ़ सकती हैं, जिससे किसानों को  फायदा होगा। ऑल इंडिया दाल मिल एसोशिएसन के अध्यक्ष सुरेश अग्रवाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा दाल आयात पर प्रतिबंध को लेकर गुजरात हाई कोर्ट के फैसले को बरकरार रखने से विदेशों से प्रमुख दलहनों का आना बंद हो जाएगा। जिससे किसानों को उनकी फसलों का सही मूल्य मिलेगा।

दलहन बाजार के जानकार अमित शुक्ला ने बताया कि अदालत के फैसले के बाद दलहन बाजार में  तेजी का रुख देखने को मिला, हालांकि इस बात को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है कि मद्रास हाई कोर्ट से जिन लोगों को स्टे मिला हुआ है उनका क्या होगा।

उन्होंने कहा कि संदेह की स्थिति इस बात को लेकर भी है कि दलहन की खेप लेकर जो जहाज बर्मा से चेन्नई के लिए रवाना हुए हैं उनका क्या होगा।

दिल्ली में अरहर के भाव 5,050 रुपये, उड़द के 4,400 से 5,400 रुपये प्रति क्विंटल रहे। वहीं मूंग के भाव दिल्ली में 5,000 से 6,000 रुपये और चना के भाव 4,200 से 4,300 रुपये प्रति क्विंटल रहे।

व्यापारियों के अनुसार अगर चेन्नई के रास्ते हो रहा दलहन आयात बंद हो गया तो, फिर दालों के मौजूदा भाव में 150 से 200 रुपये की और तेजी के आसार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *