फिर चला गब्बर का हंटर, समीक्षा बैठक में 10 अफसरों को किया सस्पेंड

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 5 Sep, 2018

हरियाणा के स्वास्थय मंत्री अनिल विज ने प्रदेश के कई जिलों में नकली मावा, पनीर, दूध जैसे तत्वों से बने अन्य पदार्थों के नमनू इकट्ठा करने में लापरवाही बरतने को लेकर 2 जिलों के खाद्य सुरक्षा अधिकारी व 8 चिकित्सा अधिकारियों को निलंबित करने के आदेश दिए हैं।

बता दें कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के निदेशक डॉ. साकेत कुमार के आदेश पर पूरे प्रदेश में नकली मावा व पनीर के सैंपल भरने का अभियान चलाया गया था।

इस अभियान में इन सभी अफसरों ने लापरवाही बरती, जिसते चलते इन्हें स्वास्थ्य मंत्री द्वारा निलंबित किया गया है। यह फैसला समीक्षा बैठक के दौरान लिया गया। विज ने कहा कि अभियान के दौरान सैंपल संतोषजनक नहीं लिए गए।

इसी कारण हिसार के खाद्य सुरक्षा अधिकारी प्रेम सिंह व करनाल के श्यामलाल महीवाल को निलंबित करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही कई जिलों में तैनाल 8 चिकित्सा अधिकारियों को भी सस्पेंड किया गया।

समीक्षा बैठक के दौरान स्वास्थय मंत्री ने बताया कि प्रदेश के सभी जिलों से इस सीजन के दौरान कुल 213 नमूने एकत्र किए गए, जिनमें सबसे ज्यादा गुरुग्राम से 22, सिरसा व मेवात से 11, अंबाला, पलवल, यमुनानगर, सोनीपत से 10-10 नमूने एकत्र हुए।

जिन जिलों में हैल्थ अफसर नहीं हैं, वहां मेडिकल अफसरों को तैनात किया गया था, लेकिन इन्होंने अभियान के दौरान अपनी ड्यूटी ठीक से नहीं निभाई है। जिस कारण उन सभी अफसरों को निलंबित किया गया है, जिन्होंने लापरवाही बरती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *