हाईकोर्ट ने मुरथल टोल प्लाजा की दूरी पर जवाब मांगा

बड़ी ख़बरें हरियाणा

मुरथल में लगाए गए नए टोल प्लाजा पर हाईकोर्ट ने बुधवार को सुनावाई करते हुए स्पष्ट कर दिया की दो टोल के बीच की दूरी और म्युनिसिपल कमेटी से टोल टोल की दूरी पर अथॉरिटी जवाब दें।

जस्टिस अजय कुमार मितल व जस्टिस अनुंपिदर सिंह ग्रेवाल की खंडपीठ ने मामले पर पांच मार्च के लिए अगली सुनवाई तय की है। बुधवार को सुनवाई के दौरान टोल अथॉरिटी की तरफ से कोर्ट में कहा गया कि म्युनिसिपल कमेटी एरिया को बाद में बढ़ाया गया जबकि टोल प्लाजा पहले बना लिया गया था। यह नियम उन पर लागू नही होता।

गुडगांव निवासी असीम तकयार ने याचिका दायर कर कहा कि नेशनल हाईवे अथॉरिटी के नियमों के अनुसार एक टोल से दूसरे टोल के बीच 60 कि मी. से ज्यादा अतंर होना चाहिए। मुरथल में नया टोल प्लाजा इन नियमों के विपरित है। यही नहीं म्युनिसिपल लिमिट या लोकल एरिया कस्बे से 10 कि. मी. का अंतर होने के नियमों पर भी खरा नही उतरा है। इसके अलावा नियमों की अनदेखी कर अधूरे निर्माण कार्यों के बावजूद टोल प्लाजा फीस वसूली जा रही है। ऐसे में टोल वसूली पर रोक लगाई जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *