हाईकोर्ट का हरियाणा सरकार को नोटिस, मांगा जवाब..

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 19 July, 2019

एक साल पहले जंगली जानवरों द्वारा किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाने की एवज में मुआवजा संबंधी जनहित याचिका पर हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार और अन्य संबंधित विभागों को मुआवजे के आदेश दिए थे। इस मामले में अभी तक राज्य सरकार ने अमल नहीं किया है। जिसके बाद एडवोकेट और समाजसेवी विजय बंसल ने हाईकोर्ट में कंटेम्प्ट ऑफ कोर्ट की याचिका दाखिल की थी।

इस मामले में वीरवार को हाईकोर्ट ने आलोक निगम, आई.ए.एस अतिरिक्त मुख्य सचिव वन विभाग एवं वीर भान सिंह तंवर चीफ वार्डन अन्य प्राणी विभाग व हरियाणा सरकार को कंटेम्प्ट ऑफ कोर्ट का नोटिस देकर 19 सितंबर को जबाव देने के लिए कहा है।

क्या था पूरा मामला-

एडवोकेट विजय बंसल ने जनहित याचिका में कहा था कि शिवालिक क्षेत्र के जिला पंचकूला, यमुनानगर और अंबाला के गांवों की सीमा के साथ ज्यादातर वन क्षत्र हैं, जिस कारण कई जंगली जानवर जैसे सूअर, नील गाय आदि किसानों की फसलों को चट कर जाते हैं। जानवर फसलों को तहस- नहस कर देते हैं, जिससे किसानों को आर्थिक नुकसान होता है।

उन्होंने कहा था कि शिवालिक क्षेत्र में पहले ही सिंचाई के पुख्ता इंतजाम नहीं है और जमीन कम होने के कारण किसानों के पास कमाई का कोई और साधन भी नहीं हैं। जानवर किसानों का नुकसान कर रहें है और सरकार व वन्य प्राणी विभाग चुप्पी साधे बैठे हैं। इसमें नामात्र मुआवजा दिया जाता है, जिसमें बकरी के लिए 500, गाय के लिए 1500 और भैंस के लिए लगभाग 3000 रुपये दिए जाते है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *