लड़का नहीं हुआ तो पति ने परिजनों संग मिलकर पत्नी को पिलाया फिनाइल, हालत गंभीर

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Jind, 27 Nov, 2018

प्रदेश में आज भी कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनकी सोच इतना पढ़-लिखने के बाद भी नहीं बदली है। पुरुषवादी समाज में हालांकि बेटियों ने अपने हक पाये हैं। लेकिन आज भी बहुत से लोग बेटा पैदा होने की ही इच्छा रखते हैं।

ऐसा ही एक शर्मनाक मामला जींद के गांव बोहतवाला से सामने आया है। जुड़वा बेटियां पैदा होने पर एक युवक ने अपने परिजनों संग मिलकर पत्नी को जान से मारने की कोशिश की। जिससे महिला की हालत बिगड़ गई और उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित कुसुम ने बताया कि 2006 में उसकी शादी सतीश से हुई थी और वह राजकिय स्कूल में अध्यापक है। जुड़वा लड़कियां पैदा होने के बाद से ही पति सतीश, सास धनपति व देवरानी सुमन उसे ताने देते लगे। इतना ही नहीं उसके साथ मारपीट भी करते थे।

पीड़िता ने बताया कि 24 नवंबर को पति, देवरानी और सास ने उसके साथ मारपीट की और जबरदस्ती उसे फिनाइल भी पिला दिया। जिससे महिला की हालत काफी बिगड़ गई। इसकी सूचना मिलते ही मायके पक्ष के लोग मौके पर पहुंचे और उसे अस्पताल में भर्ती करवाया। लेकिन हालत ज्यादा खराब होने के चलते महिला को रोहतक पीजीआई में रेफर कर दिया गया।

फिलहाल पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर पति, सास व देवरानी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *