स्कूलों में बच्चों को अगर प्राईवेट पब्लिकेशन की किताबें लाने का दबाव बनाया तो होगी मान्यता रद्द

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana

Bhiwani (15 April 2018)

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा संबधित स्कूलों में अगर किसी स्कूल संचालक ने प्राईवेट पब्लिकेशन की किताब लगाई तो ऐसे स्कूलों के खिलाफ बोर्ड प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा। साथ ही ऐसे स्कूलों की मान्यता भी रद्द करने की सिफारिश भी करेगा। बोर्ड चेयरमैन ने इसके लिए सख्त निर्देश दिए है।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन डॉ जगबीर सिंह ने कहा कि प्राईवेट स्कूलों की बार बार यह शिकायत मिल रही है कि वे प्राईवेट पब्लिकेशन की किताबें लाने के लिए बच्चों पर दबाव बना रहे हैं। यह किताबें इतनी महंगी होती है कि अभिभावकों की जेब पर भारी पड़ती है। उन्होंने कहा कि अबकि बार अगर बोर्ड द्वारा संबंधित किसी भी स्कूल ने प्राईवेट पब्लिकेशन की किताब के लिए बच्चों को कहा तो ऐसे स्कूल संचालक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़े-

क्या मोदी विरोध की सजा मिली प्रवीण तोगड़िया को, विश्व हिंदू परिषद से हुए बाहर- पढ़े पूरी खबर

1 thought on “स्कूलों में बच्चों को अगर प्राईवेट पब्लिकेशन की किताबें लाने का दबाव बनाया तो होगी मान्यता रद्द

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *