Home चर्चा में अगर फरसा एक शस्त्र है तो गदा भी शस्त्र है: जयहिंद

अगर फरसा एक शस्त्र है तो गदा भी शस्त्र है: जयहिंद

0
0Shares

Yuva Hayana

15 Oct, 2019

जनसभाओं में कंधे पर फरसा लेकर आने से विवादों में आए आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रधान नवीन जयहिंद ने फतेहाबाद के रिटर्निंग अधिकारी को तीखा जवाब देते हुए कहा की चुनाव आयोग उन पर जो मर्जी एक्शन ले लें पर वे फरसा नहीं छोड़ेंगे।

आप नेता नवीन जयहिंद
वहीं फतेहाबाद में आयोजित जनसभा के दौरान फरसा लेकर आने के बाद रिटर्निंग अधिकारी ने उन्हें नोटिस थामते हुए दो दिन के अंदर स्पष्टीकरण मांगा था। लिखित मैं जवाब देते हुए आप प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि यह फरसा मैंने अपनी आत्मरक्षा के लिए रखा हुआ है क्या कानून व संविधान की पालना चुनाव के दौरान व चुनाव से पहले अलग-अलग होती हैं। जयहिंद ने कहा कि फरसा एक धार्मिक चिन्ह् है अगर चुनाव आयोग के लिए फरसा एक शस्त्र है तो गदा भी एक शस्त्र है जिसे सत्तारूढ़ पार्टी के नेता सार्वजनिक रूप से बड़े नेताओं को दे रहे हैं फिर उन्हें नोटिस क्यों नहीं थमाया जा रहा।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In चर्चा में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणा में आज सामने आए 696 ने पॉजिटिव केस, अब तक 322 लोगों की हो चुकी मौत

Yuva Haryana News, 16 July 2020 ये भी पढ़ि…