हरियाणा प्रदेश में बड़े स्तर पर हो रहा है अवैध खनन- कुमारी सैलजा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष
  • हरियाणा कांग्रेस का राज्यसभा में शीतकालीन सत्र

  • कुमारी सैलजा ने उठाया अवैध खनन का मुद्दा

  • 2018-19 में हुए एक लाख 15 हजार492 अवैध खनन के मामले

  • विधानसभा में पेश की गई कैग रिपोर्ट

  • खनन घोटाले की हाईकोर्ट से जांच की मांग

Yuva Haryana
03 Dec, 2019

राज्यसभा सांसद एवं हरियाणा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने मंगलवार को राज्यसभा के शीतकालीन सत्र में प्रदेश में हो रहे अवैध खनन के मुद्दे को उठाया।

कुमारी सैलजा ने कहा कि पूरे देश में अवैध खनन हो रहा है। 2018-19 में एक लाख 15 हजार 492 मामले अवैध खनन के पाए गए और यह बढ़ते ही जा रहे हैं। सख्त कानून ना होने के चलते अवैध खनन के मामले बढ़ते जा रहे हैं।

एनजीटी ने आदेश दिए हैं कि जो भी वाहन अवैध खनन करता पाया जाए, उस वाहन को पकड़कर 50 प्रतिशत जो उस वाहन की एक्स शो रुम कीमत है उसे लेकर ही उसे छोड़ा जाए। लेकिन इसके तहत आज तक कोई भी वाहन नहीं पकडा गया है।

उन्होंने हरियाणा विधानसभा में खनन को लेकर रखी गई कैग रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि कैग रिपोर्ट में पाया गया है कि हरियाणा प्रदेश में अवैध खनन बड़े स्तर पर हो रहा है। इस रिपोर्ट में पाया गया है कि खनन ठेकेदार दोगुने या इससे अधिक खनन क्षेत्र में खनिजों का दोहन करते पाए गए हैं। यहां तक कि गैरकानूनी खनन के चलते नदी के बहाव का मुंह तक मोड़ दिया गया है। बांध की सीमा बदल दी गई है और गैरकानूनी पुल बनाए गए हैं।

कैग की रिपोर्ट में पाया गया है कि खनन ठेकेदार दोगुने क्षेत्र में खनिजों का दोहन कर राजस्व को चूना लगा रहे हैं। यदि यह सभी 95 खनन क्षेत्रों में लागू किया जाए तो यह माना जाए कि तीन चौथाई खनन क्षेत्रों में दोगुने या उससे अधिक क्षेत्रफल में खनन हो रहा है और सालाना पांच हजार करोड़ का चूना लगाया जा रहा है।

कुमारी सैलजा ने कहा कि यह घोटाला प्रशासन और सरकार की मिलीभगत के बिना नहीं हो सकता है। जब सरकार के पास सैटेलाइट इमेजरी है तो यह हजारों करोड़ों का घोटाला कैसे हो रहा है। उन्होंने प्रदेश के इस अवैध खनन घोटाले की जांच हाईकोर्ट के सिटिंग जज से कराने की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *