तीन दिन चले कृषि मेले में पहली बार महिला किसान बनी पहले ईनाम की हकदार

Breaking खेत-खलिहान बड़ी ख़बरें हरियाणा

Yuva Haryana

Rohtak, (27 March 2018)

रोहतक में हुए तृतीय कृषि नेतृत्व शिखर सम्मेलन के तीसरे और अखिरी दिन हुए लक्की ड्रा में पांच किसानों की किस्मत चमकी।

इस तीन दिन के कृषि मेले में पहली बार किसी महिला किसान को पहले ईनाम के रूप में ट्रैक्टर मिला। यह ट्रैक्टर चरखी दादरी के समसपुर गांव की बिंदिया का निकला।

लेकिन जैसे ही उसे ट्रैक्टर की चाबी देने के लिए मंच पर बुलाया गया तो बिंदिया भावुक हो गई और उसकी आंखों से आंसू छलकने लगे। भावुक हुई बिंदिया अकेले ट्रैक्टर की चाबी भी नहीं ले सकी।

इसके बाद दूसरी महिला को मंच पर बुलाया गया तो बिंदिया ने उसके साथ चाबी ली।

अखिरी दिन हुए लक्की ड्रा विजेता किसानों को हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने पुरस्कृत किया।

कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने बताया कि अंतिम दिन लक्की ड्रा के पहले ईनाम सोनालिका ट्रैक्टर की संख्या दो कर दी गई और तीन दिन चले मेले में पहली बार एक महिला किसान पहले ईनाम की हकदार बनी।

लक्की ड्रा में पहले ईनाम में सोनालिका ट्रैक्टर पाने वाले किसानों में झज्जर के बुपनिया गांव के किसान सुखबीर और चरखी दादरी के समसपुर गांव की बिंदिया शामिल है।

दूसरे ईनाम में महिंद्रा मिनी ट्रैक्टर रोहतक के निंदाना गांव के धर्मबीर को मिला।

तीसरे ईनाम की बुलेट मोटरसाइकिल धामड़ गांव के किसान कश्मीर सिंह को और चौथा ईनाम में स्कूटी झज्जर के  मुडाखेड़ा गांव की सुशीला की निकली।

बता दें कि तीन दिवसीय कृषि नेतृत्व शिखर सम्मेलन में प्रदेश के 13 किसानों पर किस्मत मेहरबान बनी।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *