अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी की पहली जनाक्रोश रैली दिल्ली में हरियाणा कांग्रेस में दिखी गुटबाजी

बड़ी ख़बरें हरियाणा

Pradeep Dhankhar

Yuva Haryana

राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की पहली रैली आज दिल्ली के रामलीला मैदान में हो रही है। जनाक्रोश रैली में लोगों को ले जाने के लिये जमकर गुटबाजी नजर आई है।  रैली में भीड़ जुटाने का सारा दारोमदार हरियाणा पर था। हरियाणा के झज्जर, सोनीपत और रोहतक से सबसे ज्यादा भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी थी।

भूपेन्द्र हुडा के गढ़ माने जाने वाले तीनों जिलों में अशोक तंवर ने अच्छी खासी पैठ बना ली है। इनके अलावा महिला कांग्रेस ने भी अलग से महिलाओं की भीड़ जुटाकर कांग्रेस में ध्यान खींचा है। बहादुरगढ़ में महिला कांग्रेस की प्रदेश महासचिव नीना राठी महिलाओं की भीड़ के साथ रवाना हुई। तिरंगी चुनरी के साथ निकली महिलाओं ने जन आक्रोश रैली को भाजपा सरकार के खिलाफ जनता का आक्रोश करार दिया है।

नीना राठी ने कहा कि इस रैली से पूरे देश में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संदेश जायेगा। बहादुरगढ़ से नीना राठी के अलावा अशोक तंवर गुट से राजेश जून, राज पहलवान, सतीश छिकारा और भूरा पहलवान और भूपेन्द्र हुड्डा गुट की ओर से पूर्व विधायक राजेन्द्र जून, सिकन्दर मान, पूर्व चेयरमैन रवि खत्री और युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव प्रदीप भी अपना अलग अलग काफिला लेकर रैली में शामिल हुये हैं। कुल मिलाकर रैली में तंवर और हुड्डा गुट के शक्ति प्रर्दशन में एक बात तो साफ हुई है कि हुड्डा के गढ़ में तंवर ने अच्छी खासी सेंध लगा दी है और महिला कांग्रेस गुटबाजी से अलग अपना एक मुकाम बनाने का काम शुरू कर चुकी है।

 

1 thought on “अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी की पहली जनाक्रोश रैली दिल्ली में हरियाणा कांग्रेस में दिखी गुटबाजी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *