अस्पताल में बच्चों के जन्म के मामले में रेवाड़ी प्रदेश में पहले स्थान पर

Breaking बड़ी ख़बरें हरियाणा

Ajay Atri, Yuva Haryana

Rewari

हरियाणा का रेवाड़ी जिला आज कल प्रदेश में चर्चा का विषय बना हुआ है। रेवाड़ी प्रदेशभर के अस्पतालों में बच्चों के जन्म के मामलों में 98.1 फीसदी के साथ पहले स्थान पर है। यहा हर 100 में 98 बच्चों का जन्म अस्पतालों में हो रहा है।

साल 2017-18 में 16 हजार 795 डिलीवरी हुई, जिनमें 7018 बच्चों का जन्म सरकारी अस्पतालों में और 9 हजार 777 बच्चों का जन्म निजी अस्पतालों में हुआ। ऑपरेशन से डिलीवरी की सुविधा केवल नागरिक अस्पताल रेवाडी में उपलब्ध है।

स्वास्थ्य विभाग ने बताया है कि जिला में एक नागरिक अस्पताल रेवाडी व एक नागरिक अस्पताल कोसली में, 5 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, 13 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, 3 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, एक सेक्टर-4 स्थित डिस्पेंसरी व 113 उप स्वास्थ्य केंद्र हैं।

सभी सीएचसी और पीएचसी में डिलीवरी की सुविधा है, लेकिन सिजेरियन की व्यवस्था केवल नागरिक अस्पताल रेवाड़ी में ही है।

बता दें कि जननी सुरक्षा योजना के तहत अनुसूचित जाति की महिला को हरियाणा सरकार द्वारा संस्थागत प्रसूति करवाने पर 1500 रूपये की अतिरिक्त सहायता राशि भी प्रदान की जाती है। जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम के तहत गर्भावस्था व प्रसव के दौरान अस्पताल में रूकने तक मुफ्त खुराक, जरूरत पडने पर नि:शुल्क रक्त की सुविधा, मुफ्त उपचार, प्रसव पूर्व एवं उपरांत (42दिन) तक नि:शुल्क वाहन सेवा, सामान्य प्रसव पर 3 दिन तक 100 रूपये प्रतिदिन डाईट व सिजेरियन प्रसव पर 7 दिनों तक 100 रूपये प्रतिदिन डाईट दी जाती है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *