हिसार में रोड शो के दौरान सीएम खट्टर पर फेंकी स्याही, आरोपी गिरफ्तार

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा

Vinod Saini, Yuva Haryana
Hisar, 17 May, 2018

हिसार में आज मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर रोड शो करने के लिए पहुंचे थे, लेकिन यहां पर पहुंचते ही जैसे ही वो देवी भवन की तरफ एक कार्यक्रम में जा रहे थे तो अचानक एक युवक ने पहले तो ताऊ देवीलाल के नारे लगाए और बाद में सीएम के पास जाकर स्याही फेंक दी। यह स्याही मुख्यमंत्री के कंधे और हाथ पर गिरी।

हालांकि सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत ही युवक को दबोच लिया और हिसार पुलिस के हवाले कर दिया।

 

आरोपी युवक की पहचान आदमपुर मंडी के गांव जाखोद के प्रवीण सांवत के रुप में हुई है, आरोपी युवक की फेसबुक प्रोफाईल पर कुलदीप बिश्नोई का फोटो लगा हुआ है जो साल 2016 में अपडेट किया गया है।

बताया जा रहा है कि युवक जाट कॉलेज में पढाई कर चुका है और छात्र संगठनों के साथ भी जुड़ा रहा है। जानकारी के अनुसार युवक प्रवीण सावंत आदमपुर क्षेत्र के जाखौद खेड़ी गांव का रहने वाला है और लम्बे समय से कुलदीप बिश्नोई से जुड़ा है। हजकां की छात्र इकाई में इसके पास कोई पद भी था। 2014 लोकसभा चुनाव में यह युवक जाखौद खेड़ई में ही हजका का पोलिंग एजेंट था  वहां इसकी इनेलो कार्यकर्ताओं के साथ झड़प और हाथापाई भी हुई थी जिसनका निपटारा बाद में पंचायतों से हुआ। इनेलो नेताओं ने इसके किसी भी तरह से इनेलो से जुड़े होने से साफ इन्कार किया है, उल्टे इसे अपना धुरविरोधी बताया है।

वहीं स्याही के इस घटनाक्रम के बाद तुरंत सीएम मनोहर लाल खट्टर ने गौशाला के कार्यक्रम में अंदर जाकर कपड़े बदल लिये और रोड शो में दोबारा जुट गए।

मुख्यमंत्री से जब स्याहीकांड को  लेकर पूछा गया तो उन्होने कहा कि यह कोई खास बात नहीं है।

 

इसके बाद जब सीएम मनोहर लाल खट्टर राजगुरु मार्केट पहुंचे तो यहां पर भी सीएम मनोहर लाल खट्टर को विरोध का सामना करना पड़ा और यहां पर लोगों ने सीएम खट्टर को काले झंडे दिखाए।

इस घटना के बाद मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस प्रकार की घटना ओच्छी मानसिकता की प्रतीक है।

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुलदीप बिश्नोई ने सीएम खट्टर के रोड शो के दौरान स्याही फेंके जाने की घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होने कहा कि लोकतंत्र में रोड शो करने का सभी को अधिकार है लेकिन इस प्रकार से विरोध करना गलत है। हालांकि कुलदीप बिश्नोई की ओर से जारी स्टेटमैंट में आरोपी युवक के बारे में कुछ नहीं कहा गया। उसके कुलदीप बिश्नोई से जुड़े होने को ना स्वीकारा गया, ना नकारा गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *