दहेज के लोभियों ने कर दी बहू की बेरहमी से हत्या, शव लेने आए परिजनों से की मारपीट

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Younus Alvi, Yuva Haryana

Nuh, 19 July, 2018

दहेज को लेकर घर की बहू को प्रताड़ित और हत्या के कई मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला नूहं के भूडियानबास गांव का है, जहां ससुरालियों ने पांच लाख रुपये और ट्रेक्टर ना देने पर अपनी बहू की हत्या कर दी।

मृतिका की दो साल पहले ही शादी हुई थी और उसका 6 महीने का एक बेटा भी है। महिला के परिजनों को जब इसका पता चला तो वे गांव पहुंचे और लड़की के शव को अपने साथ ले जाने लगे, तो ससुराल वालों ने उनकी जमकर पिटाई कर दी, जिसमें कई लोग घायल हो गऐ। पीड़ितों से दो मोटरसाइकल और मोबाइल भी छीन लिया।

बता दें कि राजस्थान के अलवर के गांव पलखडी निवासी सुफेदा पुत्र अमरू ने 2016 को अपनी दो बेटी बसमीना और वकीसा की फिरोजपुर झिरका के गांव भूडियानबास में मुस्लिम रिति रिवाज के साथ निकाह किया था। लड़की के ससुराल वाले तभी से ही दहेज में पांच लाख और एक ट्रेक्टर की मांग करते आ रहे थे। दहेज की मांग पूरी ना करने पर वह बेटियों से मारपीट करते थे।

मृतक बसमीना के करीब 6 महिने पहले एक लड़का हुआ था। लड़के के छूछक और भात में उन्होंने 51 हजार रुपये नगद, फ्रिज और वाशिंग मशीन दिए। लेकिन इसके बावजूद लोभियों का पेट नहीं भरा और बसमीना के साथ ससुराल वालों ने मारपीट की थी।

मृतिका के परिजनों का कहना है कि 18 जुलाई को बसमीना ने फोन पर बताया था कि दहेज और छूछक की डिमांड पूरी ना करने पर ससुराल वाले उसको जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। जिसके बाद उसी शाम सास, ससुर सहित सात लोगों ने बसमीना की हत्या कर दी।

बसमीना के परिजनों को जब पता चला तो वे गांव भूडियानबास गऐ। उन्होने देखा की उनकी लड़की से मारपीट की गई थी और बाद में गले में फंदा लगाकर उसकी हत्या कर दी गई थी।

जब वह मृतक बसमीना को अपने घर ले जाने लगे, तो ससुराल वालों ने मारपीट की। जिसमें पांच लोगों को गंभीर चोट आई हैं। वहीं उनसे दो मोटर साइकिल और एक कीमती मोबाइल भी छीन लिया। बाद में फिरोजपुर झिरका पुलिस को इसकी सूचना दी गई।

पुलिस की मदद से वे मृतक के शव को अस्पताल लेकर आऐ हैं। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *