डिजिटलाइजेशन के दौर में पशुपालन विभाग भी हुआ डिजिटल

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana

Chandigarh

हरियाणा पशुपालन विभाग डिजिटल हो गया है। अब विभाग से जुडी हर प्रकार की जानकारी हरियाणा पोर्टल पर मौजूद होगी। शाखा की मिनी डेयरी, हाईटेक डेयरी, मुर्राह भैंस विकास तथा देसी गाय विकास जैसे प्रोग्रामों के लिए लोगों से ऑनलाइन फार्म भरवाए जाएंगे जिससे प्रयोजनाओं की पारदर्शिता का पता चल सके।

विभाग के प्रवक्ता का कहना है कि पशुपालन विभाग के द्वारा बहुत सी प्रयोजनाएं चलाई जा रही है और पशुपालकों के हित में अनुदान व प्रोत्साहन राशि देने का चलन है। आने वाले समय में योजनाएं ऑनलाइन ऐपलिकेशन के द्वारा लिए जाएंगे ताकि वरिष्ठता सूची व पात्र व्यक्ति की अनदेखी के मामले न होने पाएं। पशुपालन विभाग से जुडी हर प्रकार की जानकारी अब हरियाणा पोर्टल पर मौजूद होगी जिससे लोग पोर्टल या विभाग की साइट पर देखकर इन योजनाओं का लाभ उठा सकें और योजनाओं के लिए आवेदन कर सकेंगे।

विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि 5, 10, 20 व 50 दुधारू गाय या भैंसों की डेयरी पर ऋण राशि के 75 प्रतिशत भाग पर ब्याज में छूट का प्रावधान किया है जिससे ज्यादा से ज्यादा युवा डेयरी लगाई जा सके। अनुसूचित जाति के पशुपालकों के लिए मिनी डेयरी, भेड़-बकरी तथा सुअर पालन के ऋण पर 50 प्रतिशत ब्याज में छूट का प्रावधान किया है। पशु चिकित्सकों को आदेश दिए गए है कि विभाग की हर प्रकार की जानकारी लोगों तक पहुंचाई जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *