Home Breaking आग में फंसी तीन ज़िंदगियों को बचाने की कोशिश में अपनी जान देने वाले बहादूर नैन सिंह के घर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा

आग में फंसी तीन ज़िंदगियों को बचाने की कोशिश में अपनी जान देने वाले बहादूर नैन सिंह के घर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा

0
0Shares

Younus Alvi, Yuva Haryana

Nuh

17 मई को सोहना के एक घर में लगी आग से महिला को बचाने को गए नैन सिंह की भी मृत्यु हो गई  थी। नैन सिंह के परिवार को सांत्वना देने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिह हुड्डा और पूर्व परिवहन मंत्री आफताब अहमद उनके गांव इंडरी पहुंचे। हुड्डा ने कांग्रेस पार्टी की ओर से पीडि़त परिवार को मदद करने का भरोसा दिया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में फायर ब्रिगेड सुविधा फैल हो गई है। आज अगर फायर ब्रिगेड सुविधा दुरूस्त होती तो दोनों जानों को बचाया जा सकता था।

बता दें कि 17 मई को नैन सिंह सोहना में कारपेंटर का काम कर रहे थे, तभी वहीं पडोस में रवि मदान के घर में आग लग गई। आग लगने की वजह से रवि मदान की बीवी, सुमन मदान और उनके दो बच्चे इस आग में फंस गए।

आग में जाने की किसी की हिम्मत ना हुई, इसी दौरान कारपेंटर नैन सिंह हिम्मत जुटाते हुए पीडि़त औरत और उनके दो बच्चों को बचाने आग में कूद पडा। पहले उन्होंने दोनों बच्चों को घर में से सुरक्षित बाहर निकाला, इसके बाद उन्होंने महिला सुमन मदान की चीखने चिल्लाने की आवाज सुनी। उनकी आवाज सुनकर नैनसिंह एक बार दोबारा घर के अंदर गए और महिला को बचाने का प्रयास किया लेकिन दुर्भाग्यवश वह महिला को नहीं बचा पाए और अपनी भी जान गंवा बैठे।

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बरौदा विधानसभा उपचुनाव को लेकर सीएम मनोहर लाल का बड़ा बयान, इस पार्टी के साथ गठबंधन में लड़ेंगे चुनाव

Sanjiv Ghanghash, Yuva Haryana, Sonipat मुख्यमं&…