2 महिने में नए मोटर व्हीकल एक्ट के बाद प्रदेश में बने इतने ड्राइविंग लाइसेंस, देखिए

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

4 Nov, 2019

1 सिंतबर 2019 को प्रदेश में संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ था । नए मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद ट्रैफिक नियमों को लेकर सभी चालक जागरुक हो गए हैं। इस एक्ट के लागू होने के बाद ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदनों को लेकर भी बढ़ोतरी हुई है । बता दें कि एक्ट लागू होने के सिर्फ दो महिने के अंदर 3.46 लाख नए लाइसेंस बनवाए जा चुके हैं । जबकि 3.63 लाखने डीएल के लिए आवेदन किया है। नया एक्ट लागू होने के बाद डीएल की संख्या दोगूनी हो गई है । अब औसत 6 हजार डीएल के आवेदन प्रतिदिन भरे जा रहे है। डीएल आवेदनों की संख्या इतनी ज्यादा है कि वेटिंग में आवेदनों को रखा जा रहा है। पीछले दो महिने में 3.46 आवेदन आए जिनमें से 3 लाख 22 हजार 9 आवेदकों के ही ड्राइविंग लाइसेंस जारी हो पाए। ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदकों की संख्या बढ़ने से सरकार को भी फायदा हुआ है। क्योंकि दो महिने में ड्राइविंग लाइसेंस की फीस के सरकार के खाते में 30.1 करोड़ रुपए जमा हुए है।

इतने लोग हुए डीएल टेस्ट में फेल

लर्निंग लाइसेंस बनाने के लिए आवेदकों का ड्राइविंग टेस्ट लिया जाता है। 2 महीने में लाखों आवेदकों में से सिर्फ 358 आवेदक ही डीएल टेस्ट को पास नहीं कर पाए। जबकि बीते वर्ष 7818 आवेदक ड्राइविंग टेस्ट को पास नहीं कर पाए थे। हालांकि प्रदेश में वाहन चालकों के ड्राइविंग लेवल को देखते हुए ये आंकड़ा चौंकाने वाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *