देश ने अपने बेटे शहीद लेफ्टिनेंट उमर फयाज की हत्या का लिया बदला, मुठभेड़ में मार गिराए 12 आतंकी

Breaking अनहोनी चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

 Srinagar,  2 April, 2018

सुरक्षा बलों ने जम्मू- कश्मीर के शोपियां और अनंतनाग मुठभेड़ में 12 आतंकियों को मार गिराया।

ये मुठभेड़ पिछले दस सालों में सबसे बड़ी मानी जा रही है क्योंकि यहां पर हिज्बुल मुजाहिदीन और लश्कर का सबसे बड़ा ग्रुप छिपा हुआ था।

जवानों ने रात को ही उस घर की घेराबंदी कर ध्वस्त कर दिया था, जहां ये पूरा ग्रुप छिपा हुआ था।

अभी मारे गए आतंकवादियों की पहचान होनी बाकी है, लेकिन पुलिस का कहना है कि मारे गए आतंकवादियों में कुछ प्रमुख कमांडर भी हैं।

इन एनकाउंटर को पिछले दस साल में सबसे बड़ी कामयाबी माना जा रही है क्योंकि इसमें वो आतंकवादी भी निकले, जिनका देश और कश्मीर के हीरो शहीद लेफ्टिनेंट उमर फयाज की हत्या में हाथ था।

11 महीने बाद देश ने अपने बेटे उमर फयाज की हत्या का बदला ले लिया है।

इस मुठभेड़ में शोपियां के काचीडोरा में जब सेना ने आतंकियों को घेरा तो पत्थरबाज जुटने लगे।

पुलिस और सीआरपीएफ ने वॉर्निंग दी, लेकिन पत्थरबाज नहीं माने। सेना ने ठान रखा था आतंकियों को किसी भी सूरत में भागने का मौका नहीं देंगे।

हालात जब कंट्रोल से बाहर होने लगे, तो पुलिस और सीआरपीएफ ने एक्शन लिया।

पत्थरबाजी में पुलिस और सीआरपीएफ के जवान भी घायल हुए। जवाबी कार्रवाई में 4 पत्थरबाज मारे गए और करीब 25 घायल हो गए।

लेकिन इसे एक बड़ी कामयाबी के रूप में देखा जा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *