भारतीय रेल अब पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मॉडल पर करेगी काम, यह है योजना

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

B.S. Guliani

Yuva Haryana, Ambala

घाटे से रेलवे को उभारने के लिए भारतीय रेल पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी )मॉडल की पटरी पर दौड़ेगी। नई ट्रेनों की जिम्मेदारी जहां प्राइवेट पार्टनरशिप को दी जाएगी, वहीं रेलवे स्टेशन पर सुविधाओं को बढ़ाने का जिम्मा इंडियन रेलवे स्टेशन डिवेलपमेंट कॉरपोरेशन (आईआरएसडीसी) को दिया जाएगा। अम्बाला स्टेशन निदेशक बीएस गिल ने बताया कि चंडीगढ़ के बाद अब अम्बाला रेलवे स्टेशन को भी मॉर्डन बनाने की तैयारी की जा रही है।

अंबाला रेल मंडल में चंडीगढ़ के बाद अब अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन पर आईआरएसडीसी का जिम्मा होगा। जल्दी स्टेशन आईआरएसडीसी को हैंड ओवर हो जाएगा।

अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन पर अब कॉरपोरेशन के दिशा निर्देश चलेंगे। ए वन कैटेगरी के स्टेशन आईआरएसडीसी के आने के बाद अलग-अलग प्राइवेट कंपनियों को टेंडर देगी जिसमें रेलवे का कोई दखल नहीं होगा। अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन पर सुविधाओं को बढ़ाने के लिए स्टेशन को आईआरएसडीसी के जिम्मे करने की कयामत तेज कर दी है।

इसको लेकर आईआरएसडीसी और रेलवे अधिकारियों के बीच बैठक भी हो चुकी है। स्टेशन कॉरपोरेशन के हवाले होने के कारण टिकट बिक्री रेलवे के अधीन होगी बाकी सब प्राइवेट कंपनी के। स्टेशन पर पार्किंग, कैटरिंग ,विज्ञापन, आदि का टेंडर कॉरपोरेशन अलॉट करेगा। अम्बाला स्टेशन निदेशक बीएस गिल ने बताया कि अभी रिकॉर्ड तैयार किए जा रहे हैं। आईआरएसडीसी को हैंड ओवर करने की लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है उम्मीद है कि इस वित्तीय वर्ष के समाप्त होने के बाद 1 अप्रैल से कॉरपोरेशन यहां अपना कार्य करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *