GST देश के लिए चिंता का विषय, दुनिया में भारत का GST का सबसे जटिल फॉर्म

Breaking चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें बिजनेस हरियाणा

जीएसटी देश के लिए चिंता का विषय बना हुआ है, एक तरफ जहां व्यापारी वर्ग जीएसटी से परेशान हैं तो वहीं अब विश्व बैंक की रिपोर्ट ने भी साबित कर दिया है कि भारत में लागू जीएसटी विश्व में सबसे ज्यादा जटिल है।

विश्व बैंक की रिपोर्ट में भारत में लागू जीएसटी को पाकिस्तान और घाना की श्रेणी में रखा गया है, टैक्स रेट कम करने के साथ ही कानूनी प्रावधानों और प्रक्रियाओं को सरल बनाने की सलाह दी गई है।

विश्व बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक 115 देशों में भारत में टैक्स रेट दूसरा सबसे ऊंचा है, ‘लाइव मिंट’ के मुताबिक, रिपोर्ट में शामिल देशों में भारत की तरह ही अप्रत्यक्ष कर प्रणाली लागू है।

भारत सरकार ने एक जुलाई 2017 को देश में जीएसटी लागू किया था. इसमें पांच स्लैब (0, 5, 12, 18 और 28 फीसद) बनाए गए हैं। सभी वस्तुओं और सेवाओं को इसी दायरे में रखा गया है। हालांकि सरकार ने कुछ वस्तुओं को जीएसटी से बाहर भी रखा है।

दुनिया के 49 देशों में GST के तहत एक और 28 देशों में दो स्लैब हैं। भारत समेत पांच देशों में इसके अंतर्गत पांच स्लैब बनाए गए हैं। भारत के अलावा इनमें इटली, लक्जेम्बर्ग, पाकिस्तान और घाना जैसे देश शामिल हैं।

वर्ल्ड बैंक ने टैक्स रिफंड की धीमी रफ्तार पर भी चिंता जताई है। इसका असर पूंजी की उपलब्धता पर पड़ने की बात कही गई है। रिपोर्ट में कर प्रणाली के प्रावधानों को अमल में लाने पर होने वाले खर्च को लेकर भी सवाल उठाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *