प्रदेश में दिखा हरियाणा बंद का असर- इनेलो- बसपा नेता हाथ जोड़ कर बंद करवा रहे हैं खुली हुई दुकाने

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Panchkula, 8 Sep, 2018

एसवाईएल की मांग व बढ़ी हुई डीजल व पेट्रोल की कीमतों के विरोध में आज इनेलो और बसपा द्वारा हरियाणा बंद घोषित किया गया है। जिसके चलते विभिन्न जिलों में इसका असर देखने को मिला है।

बहादुरगढ़ में भी इनेलो नेताओं ने हाथ जोड़कर खुली हुई दुकानों को बंद करवाया। बंद को सफल बनाने के लिए इनेलो नेता अलग-अलग टीमें बनाकर बाजारों में घूम रहे हैं।

खुली हुई दुकानों के सामने जाकर हाथ जोड़कर दुकान बंद करने का निवेदन भी कर रहे हैं। इनेलो नेताओं का कहना है कि इस बंद के जरिए वे सरकार को जनता की परेशानियों से अवगत करवाना चाह रहे हैं।

वह सरकार को बताना चाहते हैं कि जनता महंगाई से तंग आ चुकी है। लेकिन उसके बावजूद सरकार लगातार पेट्रोल- डीजल के दामों में बढ़ोतरी करती जा रही है।

तो वहीं, सिरसा के लगभग सभी प्रतिष्ठान बंद रहे। इनेलो ने इस बंद को सफल बनाने के लिए सिरसा शहर को 14 जोन में बाटा है और हर जोन में अलग- अलग कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी लगाई है।

पूरे शहर में इनेलो के जिला अध्यक्ष पदम् जैन के नेतृत्व में कार्यकर्त्ता लगातार दुकानदारों से बंद की अपील करते नजर आए। इस मोके पर सिरसा के विधायक मखन लाल सिंगला भी मौजूद रहे। वही कालांवाली में सिरसा के संसद चरणजीत सिंह रोड़ी ने मोर्चा सभाला हुआ है।

जिला अध्यक्ष पदम जैन के नेतृत्व में इनेलो कार्यकर्त बाजारों में दुकानदारों से बंद में सहयोग देने की अपील करते हुए निकले, तो दुकानदारों ने भी उन्हें अपना समर्थन दिया और अपनी अपनी दुकाने बंद रखी।

इस मोके पर पदम् जैन ने बताया कि लगातार पैट्रॉल और डीजल के दाम बढ़ रहे हैं, लेकिन सरकार इस और कोई ध्यान नहीं दे रही है। जिसका खामियाजा गरीब लोगो को भुगतना पड़ रहा है।

वहीं gst ने लगाकर व्यपारियों को भी परेशानी में डाल दिया है। एसवाईएल के पानी को हरियाणा के हक़ में फैसला आने के बाद भी सरकार पानी नहीं ला रही है और इनेलो कई बार इसकी मांग को लेकर प्रदर्शन कर चुकी है।

इनेलो- बसपा लंबे समय से किया गया संघर्ष आज रेवाड़ी में सिर चढ़कर बोला। आज हरियाणा बंद के तहत रेवाड़ी में भी अच्छा खासा असर देखने को मिला और शहर के तमाम बाजारों में सुबह साढ़े 10 बजे तक व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद नजर आए।

दोनों दलों के नेता कार्यकर्ताओं के साथ सुबह सवेरे ही बाज़ारो में पहुंच गए और जोरदार प्रदर्शन करते हुए जुलूस निकाला।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *