आईएनएलडी इंडियन नेशनल लुटेरा पार्टी जो लूटती भी है और कूटती भी है: मुख्यमंत्री

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 06 July, 2018

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि आईएनएलडी को लोग इंडियन नेशनल लुटेरा पार्टी कहते हैं जबकि कांग्रेस सरकार बीबीसी यानी बदली, भर्ती व सीएलयू की सरकार थी। मुख्यमंत्री आज स्थानीय आशीर्वाद गार्डन में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर एचपीएससी के पूर्व चेयरमैन गुरमेश बिश्नोई ने विधिवत् रूप से भाजपा में शामिल होने की घोषणा की। सम्मेलन में उकलाना विधानसभा क्षेत्र के 174 बूथों, 43 शक्ति केंद्र व तीनों मंडलों के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा हरियाणा की एक पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी के बारे में प्रदेश भर में विख्यात है कि ये लूटेंगे भी और कूटेंगे भी जबकि दूसरी पार्टी बीबीसी पार्टी के नाम से कुख्यात है। इन दोनों की पार्टियां वंशवाद, परिवारवाद व भ्रष्टाचार से उपर नहीं उठी है। इनके कार्यकर्ताओं की सोच भी यही थी कि एक ही परिवार हमारा मसीहा है परंतु इसके विपरीत भाजपा लोकतांत्रिक पार्टी है जिसमें एक चाय बेचने वाला भी देश के प्रधानमंत्री के पद पर आसीन हो सकता है और मुझ जैसे आम कार्यकर्ता को भी मुख्यमंत्री का दायित्व मिल सकता है।

 

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में सैकड़ों राजनीतिक दल हैं लेकिन पार्टी कार्यकर्ता का जितना मान-सम्मान भारतीय जनता पार्टी में होता है, उतना किसी अन्य पार्टी में नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि आज भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी लोकतांत्रिक पार्टी है जिसके 10 करोड़ कार्यकर्ता हैं जिनमें से 30 लाख सक्रिय सदस्य हरियाणा प्रदेश में हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे पैनी नजर रखें और उचित कार्यों का समर्थन करते हुए जनता के बीच सरकार की उपलब्धियों का प्रचार करें।

 

 

 

 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ-साथ जनता के हितों का प्राथमिकता दी जाती है। भाजपा का लक्ष्य जनता की सेवा करना, उसे साथ लेकर चलना और उनका मन जीतना है। यही कारण है कि आज विरोधी विचारधारा के लोग भी भाजपा से जुड़ रहे हैं। गत दिनों महाग्राम संपर्क अभियान के दौरान मैं छात्तर व पाई गांवों में गया जहां मुझे बताया गया था कि यहां भाजपा का जनाधार नहीं है लेकिन कार्यक्रम के दौरान हमें न केवल लोगों का भारी समर्थन मिला बल्कि विपक्षी दलों के बड़े नेता भी पार्टियां छोड़कर हमसे जुड़े। आज भाजपा से जुड़ने से पहले लोग हमारी नीतियों का मूल्यांकन करते हैं फिर हमसे जुड़ते हैं जिससे पता चलता है कि भाजपा सरकारों में आम आदमी के कल्याण को ध्यान में रखकर नीतियां बनाई जाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *