इनेलो का जेल भरो ढकोसला, रोहतक के अलावा बाकी जिलों से भेदभाव करते थे हुड्डा -मनोहर लाल खट्टर

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Yuva Haryana

Chandigarh

 

मुख्यमंत्री मनोहार लाल ने इनेलो के जेल भरो आंदोलन को एक ढकोसला बताते हुए कहा कि SYL पर सर्वोच्च न्यायालय का एक फैसला आ चुका है और दूसरा जल्दी आने वाला है और यह मामला कोई आज से नहीं, बल्कि 40 साल पुराना है।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि पिछली सरकार के समय खैरड़ी मोड़ से आगे भिवानी और रोहतक का फर्क साफ नजर आता था। लेकिन अब दिल्ली से भिवानी तक दो घंटे के सफर में यह पता नहीं चलता कि कब रोहतक आया और कब भिवानी। सरकार के लिए सभी 22 जिलें एक समान है और सभी विधान सभा क्षेत्रों में चाहे सत्ता पक्ष का विधायक हो या विपक्ष का, विकास कार्यों में कोई पक्षपात नहीं होता।

उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन रिपोर्ट से एक कदम आगे रखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने फसल लागत में 50 प्रतिशत मुनाफा जोड़ते हुए समर्थन मूल्य की घोषणा कर दी है। बाजरा का मूल्य 1450 रूपए से बढ़ाकर 1950 रूपए कर दिया गया है जिससे प्रदेश का किसान खुशहाल होगा व चारों तरफ समृद्धि आएगी।

भिवानी में मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला परिषद को बस शैल्टर बनवाने का जिम्मा दिया है। पहले जिला परिषद को मुश्किल से एक करोड़ रूपए की ग्रांट मिलती थी। भिवानी में 18 करोड़ रूपए जिला परिषद को मिल चुके है। सरकार की योजना है कि छोटे-छोटे विकास कार्य गांव की पंचायत, पंचायत समिति व जिला परिषद से करवाए जाएं। प्रत्येक ग्राम पंचायत को 50 लाख से दो करोड़ रूपए तक की ग्रांट दी गई है। आने वाले समय में पंचायती संस्थाओं का बजट और बढ़ाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि दस हजार से अधिक आबादी वाले प्रदेश के सभी बड़े 126 गांवों में शहरी स्तर की सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी। प्रत्येक व्यक्ति को 130 लीटर पानी उपलब्ध करवाने का लक्ष्य रखते हुए बडे़ गांवों में सीवरेज लाईनें बिछाने का कार्य शुरू किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस प्रकार मौजूदा सरकार बिना किसी भेदभाव और पक्षपात के सबको साथ लेकर काम कर रही है, उसी निष्पक्षता से आम जनता को भी सत्ता पक्ष और विपक्ष के कार्यो व नीतियों की तुलना करते हुए सही पक्ष का साथ देना चाहिए। हरियाणा में सत्ता भारतीय जनता पार्टी की जरूर है, परंतु सरकार केवल एक पार्टी के लिए नहीं होती, हर एक आम अवाम की होती है और यही दृष्टिकोण रखते हुए सरकार आम आदमी के लिए काम कर रही हैं। प्रदेश के सभी 90 विधान सभा क्षेत्रों में सीधी बात कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नौकरियों और अध्यापकों के स्थानांतरण में पारदर्शिता सुनिश्चित कर दी गई है। इसके उदारण ग्रामीणों को अपने आसपास बखूबी मिल जाएंगे। उन्होंने कहा कि नौकरियों में भेदभाव के कारण ही एक पूर्व मुख्यमंत्री जेल में है।

उन्होंने कहा कि 30 साल से जिन नहरों में पानी नहीं आ रहा था, वहां पानी पहुंचाकर सरकार ने किसानों के प्रति अपनी संकल्पबद्धता दिखाई है। सभी घरों की रसोईयों में एलपीजी सिलैंडर पहुंच गया है।

उन्होंने भीड़ में हाथ उठवाकर पूछा कि किसके घर में सिलैंडर नहीं है। छह महिलाओं व पुरूषों ने हाथ उठाया। मुख्यमंत्री ने भिवानी के उपायुक्त अंशज सिंह को दो दिन में उज्जवला योजना का लाभ इन्हें दिलवाने के आदेश दिए।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *