SYL पर फैसला आए 20 महीने हो गए, बीजेपी सरकार भी कांग्रेसियों की तरह हाथ पर हाथ धरे बैठी है -अभय चौटाला

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा
Sahab Ram, Yuva Haryana
Dadri, 06 July, 2018
एसवाईएल के निर्माण में देरी के लिए जितनी दोषी भाजपा है उतनी ही कसूरवार कांग्रेस भी है। यह बात नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने दादरी में हो रहे ‘जेल भरो आंदोलन’ के दौरान कही। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला हरियाणा के पक्ष में आने के 20 महीने बाद भी भाजपा ने प्रदेश की जीवन रेखा कही जाने वाली एसवाईएल नहर निर्माण के लिए कोई पहल नहीं की। आज केंद्र और राज्य में जैसे भाजपा की सरकार है इससे पहले वैसे ही कांग्रेस की हुआ करती थी लेकिन देश व प्रदेश में इन दलों की सरकारें होने के बावजूद भी सरकारें नहर निर्माण को लेकर पंजाब सरकार पर दबाव नहीं बना पाई।
इनेलो नेता ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि दस साल के कार्यकाल के दौरान कांग्रेस ने केंद्र व राज्य को दोनों हाथों से लूटा है। कांग्रेस से तंग आकर लोग अपनी सरकार चुनना चाहते थे लेकिन तीसरे मोर्चे का गठन न होने के कारण भाजपा को चुनना देश व प्रदेशवासियों की मजबूरी थी। लेकिन अब तीसरे मोर्चे का गठन हो चुका है और लोगों ने मन बना लिया है कि जिस तरह कांग्रेस को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाया था उसी तरह भाजपा को भी सरकार से बाहर करने का काम करेंगे।
भाजपा ने जनता की अनदेखी की है और जनता की अनदेखी करने वाली सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं है।
नेता विपक्ष ने कहा कि भाजपा द्वारा जनता को मुद्दों से भटकाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हर साल कभी स्वच्छ भारत अभियान तो कभी गाय और गीता के नाम पर लोगों का रोजगार व विकास आदि के विषयों से ध्यान भटकाने का काम किया है। नेता विपक्ष ने आरोप लगाया कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए हरियाणा को तीन बार आग के हवाले कर दिया। जहां सरकार ने प्रदेश में कायम भाईचारे को 35 जात, 36 जात में बांटने का काम किया। वहीं कांग्रेस ने अपना राजनैतिक हित साधने के लिए जाट आंदोलन के दौरान हिंसा भडक़ाने का काम किया।
उन्होंने कहा कि इनेलो के कार्यकर्ता बधाई के पात्र हैं जिन्होंने प्रदेश में आपसी भाईचारा कायम रखने के लिए बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती को पूरा साल सद्भावना जयंती के रूप मनाने का काम किया। और हर गांव हर घर में जाकर आपसी एकता और भाईचारे को बनाए रखने की अपील की।
इनेलो नेता ने याद दिलाया कि खट्टर सरकार ने चुनावी घोषणा पत्र में नहर निर्माण की बात कही थी लेकिन सत्ता हासिल करने के बाद केवल इस नहर निर्माण को कैसे रोका जाए, इस बात को लेकर साजिश रचने का काम किया। उन्होंने प्रधानमंत्री पर भी वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी ने सत्ता हासिल करने के लिए जनता को कभी 15 लाख देने की बात कही तो कभी दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने की। वहीं प्रदेश सरकार ने 24 घंटे बिजली, स्वामी नाथन आयोग की पूरी रिपोर्ट लागू करने, कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने और पक्के कर्मचारियों को पंजाब के समान वेतनमान देने का वादा किया था जो केवल चुनावी घोषणा बनकर रह गया।
इनेलो नेता ने प्रदेश की जनता को आश्वस्त करते हुए कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बनने पर किसानों व छोटे दुकानदारों का ऋण माफ किया जाएगा। किसानों को फसल का सही मूल्य मिले उसके लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करेंगे। साथ ही हर परिवार में से एक युवा को सरकारी नौकरी व रोजगार, गरीब की बेटी की शादी में 5 लाख रुपए की कन्यादान राशि दी जाएगी। वहीं बुजुर्गों को एकमुश्त 2500 रुपए पैंशन मिला करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि गठबंधन की सरकार बनने पर प्रदेश में बिजली बिल आधे किए जाएंगे।
इस मौके पर बसपा प्रदेश उपाध्यक्ष नरेन्द्र वर्मा ने कहा कि लोगों की इतनी बड़ी संख्या में हाजिरी स्पष्ट करती है कि जनता ने व्यवस्था परिवर्तन का भी निश्चय कर लिया है और आप देश और प्रदेश में भाजपा को उखाड़ फैंकने का काम करेंगे। उन्होने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि एससी-एसटी एक्ट को भाजपा ने कमजोर करने का काम किया है और संविधान को खतरे में डाल दिया है।
एसवाईएल, मेवात कैनाल व दादूपुर-नलवी के निर्माण के लिए हो रहे इस जलयुद्ध संघर्ष में गिरफ्तारी देने वालों में मुख्यत: अभय सिंह चौटाला, इनलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, बसपा प्रदेशाध्यक्ष नरेंद्र वर्मा, इनेलो विधायक राजदीप फोगाट सहित 16,300 गठबंधन नेता व कार्यकर्ता थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *