भोंडसी जेल प्रबंधन फिर विवादों में, विजिलेंस ने 10 हजार की रिश्वत लेते वार्डन को किया गिरफ्तार

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Manu Mehta, Yuva Haryana

Gurugram, 9 Oct, 2018

गुरुग्राम की भोंडसी जेल एक बार फिर सुर्खियों में है। विजिलेंस टीम में 10 हजार की रिश्वत लेते जेल वार्डन को रंगे हाथ गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

दरअसल, हिसार के रहने वाले शख्स ने विजिलेंस को शिकायत दी थी कि जेल वार्डन उसके जीजा बंटी (जो कि भोंडसी जेल में हत्या के मामले में बंद है) उसको पैसे के लालच के चलते बेवजह ही परेशान कर रहा है और बीती मुलाकात पर जेल वार्डन राजेश ने हत्यारोपी बंटी के साले से 10 हजार रिश्वत की डिमांड की थी।  जिसकी एवज में राजेश बंटी को हिसार जेल में ट्रांसफर करने की बात कह रहा था।

वहीं इस मामले में जांच अधिकारी सत्यप्रकाश की माने तो आरोपी से लगातार पूछताछ की जा रही है और ऐसे कितने मामलो में यह शामिल रहा है। इससे पहले भी भोंडसी जेल के डिप्टी सुप्रिडेंट को सुविधा शुक्ल रिश्वत मामले में रंगे हाथ गिरफ्तार किया जा चुका है और विजिलेंस विभाग ऐसे तमाम भ्रष्टाचारियों को समय- समय पर बेनकाब करने का काम करता रहता है।

यानी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस भोंडसी जेल कभी जेल में मोबाइल फोन मिलने को लेकर विवादों में रही, तो कभी सर्विसलान्स सिस्टम से लैस. इस अत्याधुनिक जेल से कोई अपराधी कूड़े की गाड़ी में बैठ आसानी से फरार होने में कामयाब हो जाता है और जेल प्रबंधन को इसकी कोई खबर तक नहीं हो पाती है। यानी ऐसे तमाम मामले जेल प्रबंधन की कार्यशैली पर कई बड़े और गंभीर सवाल जरूर खड़े कर रहा है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *