रोहतक में शिक्षा मंत्री ने माना, जाट आरक्षण में हुई थी सरकार से भी चूक

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Yuva Haryana

Rohtak

हरियाणा के शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा ने  आखिर मान लिया की फरवरी 2016 में हुए जाट आरक्षण आंदोलन में सरकार से कुछ चूक हुई है, जिस कारण आंदोलन भड़का था।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि यह पूरा का पूरा खेल ही पूर्व सी.एम. हुड्डा के इशारे पर रचा था। क्योंकि हुड्डा पूर्व राजनीतिक सलाहकार प्रो. वीरेंद्र इस मामले में सीधे तौर पर शामिल नजर आए।

वहीं उन्होंने अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक पर भी जल्द कार्रवाई होने की बात कही और कहा कि जल्द ही आंदोलन के पीछे का असली चेहरा सामने आ जाएगा।

रामबिलास शर्मा शनिवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। हुड्डा पर हमलावर होते हुए उन्होंने एजुसैट के बारे में कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के रिश्तेदारों की कम्पनी ने स्कूलों में यह सिस्टम स्थापित किया था। हालांकि भाजपा की सरकार आने के बाद यह कम्पनी भंग कर दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *