जेबीटी शिक्षकों के घर वापसी पर लटकी तलवार, ट्रांसफर को लेकर आ रही ये बड़ी दिक्कत

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

 Yuva Haryana
Chandigarh, 18 July 2019

हरियाणा स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से साल 2017 में नियुक्त जेबीटी अध्यापक अंतर जिला तबादला प्रक्रिया से बाहर रहेंगे। यह फैसला मौलिक शिक्षा निदेशालय ने लिया है। इस फैसले के बाद से दूसरे जिले में कार्यरत 3600 जेबीटी शिक्षकों की वापसी पर भी तलवार लटकती नजर आ रही है। मामला यहां अटका हुआ है कि उनके अपने जिले के पद खाली नहीं है।

अनुसूचित जाति व सामान्य जाति के पद न के बराबर है। जिसे लेकर लग रहा है कि अपने जिले में तबादले का सपना जेबीटी शिक्षकों का टूट जाएगा। कुछ जगह तो सामान्य श्रेणी में शिक्षकों के पद नाममात्र के ही है। जिसमें भिवानी, हिसार, झज्जर, सोनीपत तथा रोहतक शामिल है।

वहीं,  अनुसूचित जाति की श्रेणी के पद अंबाला व यमुनानगर में बहुत कम है। बीसी- बी श्रेणी के पद गुरूग्राम, महेंद्रगढ़ व रेवाड़ी में जेबीटी के पदों की संख्या नाममात्र है। ऐसे में जिस  जगह के पद खाली होंगे, उस जगह उतने ही जेबीटी अध्यापकों के तबादलें हो पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *