जींद के ब्लाइंड मर्डर केस में पुलिस को बड़ी कामयाबी, बब्बल मर्डर केस की सुलझी गुत्थी

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Jind, 29 July, 2018

जींद में सीआईए की टीम ने एक बड़ी कामयाबी हासिल की है। पुलिस ने सुप्रीम स्कूल संचालक भूपेन्द्र उर्फ बब्बल मर्डर केस की गुत्थी सुलझा ली है। जिसमें आरोपी बिटटु निवासी अनूपगढ़ को गिरफ्तार किया गया है। बिटटु ने बब्ल के सिर पर गोली मारी थी।

बता दें कि सुप्रीम स्कूल संचालक को रोहतक रोड चौ. रणबीर सिंह विश्वविद्यालय के पास दो अज्ञात युवकों ने गोली मार दी थी। अब एक गुप्त सूचना के आधार पर  बिटटु को हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड पर लेगी, ताकि वारदात में प्रयोग की गई पिस्टल व पूरे मामलें का पता लगाया जा सके। यह जानकारी डीएसपी पवन शर्मा व सीआइए इंचार्ज सुरेन्द्र कुमार ने अपने कार्यालय में प्रेसवार्ता के दौरान दी।

उन्होंने बताया कि सुरेन्द्र कुमार को गुप्त सूचना मिली थी की स्कूल संचालक बब्बल की हत्या का आरोपी बिटटु जींद से गांव अनूपगढ़ की तरफ जा रहा हैं, पुलिस अगर तुरंत मौके पर पहुंचती है, तो आरोपी को काबू किया जा सकता है।

सूचना मिलते ही इंचार्ज अपनी टीम के साथ गांव अनूपगढ़ के टी प्वायंट पर पहुंचें और आरोपी बिटटु को गिरफ्तार कर लिया ।

इस मामले में बब्बल के परिजनों ने रामनिवास, सुनील कपूर आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था। जिसमें पुलिस को अभी तक बब्ल मर्डर केस में कोई ठोस सुराग नहीं लग रहा था । पुलिस ने कईं एंग्ल से जांच की और यह मामला पुलिस के लिए ब्लाइंड बन चुका था । वहीं एसएसपी डा.अरूण कुमार के दिशानिर्देश में जींद सीआइए ने बब्बल मर्डर केस की गुत्थी को आखिर सुलझाया ही लिया है ।

बिटटु से पूछताछ में सामने आया कि भूपेन्द्र उर्फ बब्बल के कहने पर उसने व उसके साथी राजपुरा भैण गांव निवासी विनय ने सुनील कपूर पर लाठी व डंडों से दो बार जानलेवा हमला किया था। इस हमले की एवज में बब्बल ने दोनों को i- 20 कार व एक लाख पचास हजार रुपये देने का वादा किया था। हमले के बाद बब्बल ने विनय को पैसे तो दे दिए लेकिन कार देने से मना कर दिया ।

इसी रंजिश को मन में लेकर विनय ने अपने साथी बिटटु के साथ मिलकर 3 जुलाई को रोहतक बाई पास रोड़ पर बब्बल का पीछा करके उसको दो गोलियां मारकर हत्या कर दी थी । फिलहाल पुलिस गिरफ्तार किए गए आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड पर लेगी, ताकि पता लगाया जा सके कि इस हत्या मामलें में कौन कौन शामिल थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *