जींद में बम्पर वोटिंग, 2 बजे तक 50 फीसदी से ज्यादा मतदान

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Jind, 28, Jan, 2019

हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए सोमवार को दोपहर 2 बजे तक 50 प्रतिशत तक मतदान हुआ है। मतदान सुबह सात बजे से शुरू हुआ है, जो शाम पांच बजे तक चलेगा।

अभी तक 50% फीसदी से ज्यादा मतदान हो चुका है और बूथो पर वोटिंग के लिए लंबी कतारे लगी हुई है। मतदान शांतिपूर्वक ढंग से जारी है।

बता दें कि चुनाव परिणाम 31 जनवरी को होंगे। जींद उपचुनाव में मतदान के लिए 174 बूथ बनाए गए हैं, जिनमें से 26 बूथ अतिसंवेदनशील और 32 बूध संवेदनशील बताए गए हैं।

जींद में 1 लाख 72 हजार 775 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 3565 लोग ऐसे हैं जो पहली बार मतदान करेंगे। जींद विधानसभा में पिछली बार की तुलना में 8541 मतदाताओं की संख्या बढ़ी है। कुल 169210 मतदाताओं में से 82171 मतदाता 18 से 39 साल के हैं। इनमें से 1770 मतदाता 18 से 19 साल के हैं, जो पहली बार अपने मत का प्रयोग करेंगे। जींद विधानसभा में पुरुष मतदाता 90206 हैं, जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 79004 है। नए मतदाताओं में 1177 पुरुष व 693 महिला मतदाता हैं।

जींद विधानसभा सीट से पिछले चुनाव 2014 के दौरान इनेलो के विधायक हरिचंद मिड्ढा ने यहां जीत हासिल की थी। जिनका निधन 26 अगस्त 2018 को हो गया था। मिड्ढा के निधन के बाद नियमानुसार चुनाव आयोग ने 30 दिसंबर को जींद विधानसभा सीट पर उपचुनाव कराने की घोषणा की।

जींद विधानसभा सीट का चुनाव राजनीतिक पार्टियों की प्रतिष्ठा तय करने वाला है, इसलिए पार्टियों ने अपने ताकतवर नेताओं को मैदान में उतारा है।

भारतीय जनता पार्टी ने इनेलो के वोटों में सेंध लगाने के लिए पूर्व विधायक हरिचंद मिड्ढा को मैदान में उतारा है, वहीं कांगे्रस ने कैथल के मौजूदा विधायक रणदीप सिंह सुरजेवाला को इस दौड़ में शामिल किया है। वहीं इनेलो की दो फाड़ होने के बाद जन्मी जननायक जनता पार्टी की ओर दिग्विजय चौटाला को उम्मीदवार बनाया गया। इन सारे उम्मीदवार के साथ इनेलो के उम्मीदवार नगर परिषद के चेयरमैन उमेद सिंह रेढू सहित कुल 21 उम्मीदवार मैदान में उतरे हैं।

जींद में कुल 174 बूथों पर मतदान कराने के लिए 2 हजार के लगभग चुनावी स्टाफ तैनात किया गया। 26 बूथ अतिसंवेदनशील और 32 बूध संवेदनशील बताए गए हैं, हालात खराब होने पर मोर्चा संभालने के लिए हरियाणा पुलिस के 3 हजार जवान, 500 होमगाड्र्स के अलावा सीआरपीएफ और आरएएफ की 1-1 कंपनी भी बुलवाई गई है। पूरे इलाके में 51 नाके लगाए गए हैं।

यह चुनाव राजनीतिक पार्टियों की प्रतिष्ठा तय करने वाला है, इसलिए पार्टियों ने अपने ताकतवर नेताओं को मैदान में उतारा है। भारतीय जनता पार्टी ने इनेलो के वोटों में सेंध लगाने के लिए पूर्व विधायक हरिचंद मिड्ढा को मैदान में उतारा है।

कांग्रेस ने कैथल के मौजूदा विधायक रणदीप सिंह सुरजेवाला को इस दौड़ में शामिल किया है। वहीं इनेलो की दो फाड़ होने के बाद जन्मी जननायक जनता पार्टी की ओर दिग्विजय चौटाला को उम्मीदवार बनाया गया। इन सारे उम्मीदवार के साथ इनेलो के उम्मीदवार नगर परिषद के चेयरमैन उमेद सिंह रेढू सहित कुल 21 उम्मीदवार मैदान में उतरे हैं।

जींद में कुल 174 बूथों पर मतदान कराने के लिए 2 हजार के लगभग चुनावी स्टाफ तैनात किया गया। 26 बूथ अतिसंवेदनशील और 32 बूध संवेदनशील बताए गए हैं, हालात खराब होने पर मोर्चा संभालने के लिए हरियाणा पुलिस के 3 हजार जवान, 500 होमगाड्र्स के अलावा सीआरपीएफ और आरएएफ की 1-1 कंपनी भी बुलवाई गई है। पूरे इलाके में 51 नाके लगाए गए हैं।

आज वोटिंग में पहली बार वीवी पैट का प्रयोग हो रहा है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *