दिल्ली में चुनाव लड़ने की तैयारी में जेजेपी, दस सदस्यों की कमेटी गठित

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
  • जेजेपी ने भविष्य के लिए किया गया चिंतन, मनन और मंथन

  • कमेटी करेगी दिल्ली चुनाव को लेकर अंतिम फैसला-दुष्यंत चौटाला

  • 20 दिसंबर से जेजेपी शुरू करेगी सदस्यता अभियान

  • बगावत करने वालों को पार्टी दिखाएगी बाहर का रास्ता

Happy Singh, Yuva Haryana
Sirsa, 09 Dec, 2019

जननायक जनता पार्टी के प्रथम स्थापना दिवस पर आयोजित प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी को भविष्य में और मजबूत करने पर मंथन किया गया। आज चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के सभागार में आयोजित कार्यकारिणी की बैठक में दिल्ली विधानसभा चुनाव का मुद्दा भी उठा।

हरियाणा में स्थाई मान्यता वाली पार्टी बनी जेजेपी, ‘चाबी’ रहेगा जेजेपी का चुनाव निशान

कार्यकारिणी में फैसला लिया गया कि दिल्ली विधानसभा चुनावों को लेकर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की अध्यक्षता में दस सदस्यीय कमेटी गठित की गई जोकि चुनाव को लेकर अंतिम निर्णय लेगी। इस कमेटी में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के अलावा, पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तंवर, दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष ओमप्रकाश सहरावत, डा. श्यामलाल, डा. केसी बांगड़, शीला भ्याण तथा गुडग़ांव, सोनीपत, झज्जर व फरीदाबाद जिले के जिला अध्यक्ष शामिल हैं।

इसके अलावा पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए 20 दिसंबर से एक माह तक सदस्यता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। संगठन की सर्वाेच्च बैठक में दुष्यंत चौटाला ने पांच साल तक भाजपा के साथ मजबूती से सरकार चलाने का इरादा जाहिर किया। साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा गठबंधन सहयोगी है और गठबंधन का धर्म निभाते हुए किसी भी भाजपा के नेता को जेजेपी में शामिल न करने का निर्णय लिया गया है।

पंचकूला में ओपी चौटाला की कोठी सील, बाहर निदेशालय ने लगाया नोटिस

चुनावों में पार्टी से बगावत करने वालों को लेकर भी कार्यकारिणी ने कड़ा रूख अपनाया और इसकी एक रिपोर्ट तैयार करने के लिए जिला अध्यक्षों को अधिकृत किया गया। पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त पाए जाने वालों को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।
बैठक की शुरूआत में देश-प्रदेश की बड़े नेताओं तथा पार्टी कार्यकर्ताओं के परिजनों के निधन पर शोक व्यक्त किया गया एवं दो मिनट का मौन रख कर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई।

दुष्यंत चौटाला ने दादा ओमप्रकाश चौटाला के लगवाए नारे, स्टेडियम का नाम दादी के नाम पर रखने की दिली इच्छा

इनसो पर चर्चा करते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा कि 30 दिन के अंदर-अंदर दिग्विजय सिंह चौटाला के नेतृत्व में एक रिपोर्ट तैयार करें कि आने वाले समय में दिल्ली विश्वविद्यालय सहित अन्य राज्यों में भी इनसो संगठन को मजबूती से खड़ा किया जा सके। इस टीम में प्रदीप देसवाल, प्रो रणधीर चीका, संजीव मंदौला, अरविंद्र भारद्वाज, डा. जेसी कादियान, पूर्व कुलपति अभय सिंह मौर्य शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *