जजपा नेताओं ने सांसद रतन लाल कटारिया से काम का हिसाब मांगते हुए कहा- आराम नहीं, काम करो सांसद साहब

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Ambala/ Chandigarh, 30 July, 2019

जननायक जनता पार्टी ने सिर्फ राष्ट्रवाद के नाम पर वोट लेकर अंबाला से सांसद बने भाजपा सांसद रतन लाल कटारिया से काम का हिसाब मांगते हुए उनसे आराम छोड़कर काम करने की अपील की है। अंबाला लोकसभा क्षेत्र के जेजेपी नेताओं ने सांसद कटारिया के सामने उनके कई वादें और अधूरे पड़े कामों को रखते हुए उनका हिसाब व उन्हें जल्द पूरा करवाने की मांग की है।

जेजेपी के एससी सैल के प्रदेशाध्यक्ष अशोक शेरवाल ने कहा कि रतन लाल कटारिया को करीब दो महीने दोबारा सांसद बने हो गए हैं, इन दो महीनों में कटारिया ने लोकसभा में क्षेत्र से जुड़े किन-किन मुद्दों को उठाया है, उन्हें बताने का काम वह करें, ताकि पता चले कि वे दोबारा सांसद बनने के बाद हमारे क्षेत्र के सांसद क्षेत्रवासियों की समस्याओं को लेकर गंभीर है या नहीं।

शेरवाल ने बताया कि पहले तो सांसद रतन लाल कटारिया ने साढौरा हलके के पहाड़ी तलहटी क्षेत्र को इंड्रस्टियल हब बनाकर यहां रोजगार देने का वादा किया था लेकिन अब तक ना यहां इंड्रस्टियल हब बना और ना ही युवाओं के रोजगार के लिए भाजपा सांसद की तरफ से कोई कदम उठाया गया। शेरवाल ने भाजपा सांसद को उनका ये वादा याद दिलाते हुए इसे संसद में उठाने व हरियाणा सरकार की मदद से जल्द पूरा करने की मांग की।

साथ ही जेजेपी एससी सैल के प्रदेशाध्यक्ष ने सांसद कटारिया से पूछा कि उन्होंने अब तक अनुसूचित जाति से जुड़े लोगों की कितनी आवाज संसद में बुलंद की है और क्या-क्या कदम उन्होंने अनुसूचित जाति के हितों को सुरक्षित रखने के लिए उठाए। शेरवाल ने कहा कि आज भाजपा राज में सबसे ज्यादा हत्याचार किसी पर हो रहा है तो वो अनुसूचित जाति के लोगों के साथ ही हो रहे है, लेकिन इसके बावजूद खुद को अनुसूचित जाति का मसीहा बताने वाले सांसद रतन लाल कटारिया चुप्प हैं।

अंबाला जिले के जेजेपी शहरी जिलाध्यक्ष हरपाल कंबोज ने कहा कि रतन लाल कटारिया का यहां से दोबारा सांसद बनना हमारे क्षेत्र के लिए बहुत दूर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल से भाजपा सांसद की सुस्ती की वजह से पूरा लोकसभा क्षेत्र पिछड़ गया है। कंबोज ने कहा कि यहां उद्योगिक क्षेत्र इतने विरान पड़े हैं कि युवा रोजगार के लिए दूसरे राज्य में जाने को मजबूर है।

शहरी जिलाध्यक्ष ने कहा कि अंबाला में कांग्रेस आईआईएम स्थापित करने की बात कहते-कहते चली गई और उसके बाद कांग्रेस की तरह भाजपा सांसद रतन लाल कटारिया भी मात्र झूठे वादे ही करते रहे। उन्होंने सांसद से अपील करते हुए कहा कि वो सांसद होने का फर्ज निभाएं और अंबाला में आईआईएम स्थापित करके अपना वादा पूरा करें। वहीं हरपाल कंबोज ने कहा कि अंबाला में भाजपा का सांसद और मंत्री होने के बावजूद भी थोड़ी सी बरसात आने पर पूरा शहर जलमग्न हो जाता है, न यहां बाढ़ को लेकर कोई प्रबंध किए गए है।

 

 

वहीं यमुनानगर जिले से पूर्व विधायक व जजपा जिला प्रधान ईश्वर सिंह पलाका ने कहा कि 15 साल से पंचकूला-बरवाला-नारायणगढ़-यमुनानगर रेल लाइन सिर्फ घोषणाओं तक सीमित है। उन्होंने कहा कि इस रेल लाइन को लेकर भाजपा-कांग्रेस के नेताओं ने अब तक खूब राजनीतिक रोटियां सेकी हैं, जिसमें हमारे क्षेत्र के सांसद रतन लाल कटारिया भी शामिल है।

ईश्वर पलाका ने कहा कि सच्चाई ये है कि इस रेल लाइन को बनवाने को लेकर कभी भी सांसद रतन लाल कटारिया व भाजपा सरकार गंभीर दिखाई नहीं दिए। उन्होंने फिर से भाजपा सरकार व सांसद रतन लाल कटारिया से अपील करते हुए कहा कि इस रेल लाइन को सिर्फ अपने भाषणों तक सीमित न रखते हुए दोनों मिलकर इस प्रोजेक्ट को पूरा करें, ताकि क्षेत्रवासियों को इसका लाभ मिल सके।

 

 

 

वहीं पंचकूला शहरी जिला प्रधान ओपी सिहाग और ग्रामीण जिलाध्यक्ष भाग सिंह दमदमा ने भी अपने क्षेत्र के मुद्दों को उठाते हुए सांसद रतन लाल कटारिया से सवाल पूछे। शहरी जिलाध्यक्ष ने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार ने पिजौंर स्थित एचएमटी कंपनी को बंद करवा कर हजारों लोगों का रोजगार छीनने का काम किया तो वहीं सांसद रतन लाल कटारिया ने यहां की जनता से इस कंपनी को दोबारा शुरू करवाने का झूठा वादा करके धोखा देने का काम किया। वहीं उन्होंने कहा कि न भाजपा सांसद यहां उद्योग स्थापित और बड़ा शिक्षण संस्थान खोलने के वादे पर खरे उतरे।

उन्होंने कहा कि न भाजपा सांसद पंचकूला में उद्योग स्थापित करने व बड़ा शिक्षण संस्थान खोलने के वादे पर खरे उतरे। उन्होंने कहा कि पंचकूला के उद्योगिक क्षेत्र का इतना बुरा हाल हो चुका है कि यहां से बचे उद्योगपति इंडस्ट्रियल एरिया में टूटी सड़के, बिजली जैसी तमाम समस्याओं के चलते पलायन कर रहे हैं।

जेजेपी के पंचकुला ग्रामीण जिला प्रधान भाग सिंह दमदमा ने क्षेत्र से जुड़ी समस्याओं को बताते हुए कहा कि ग्रामीण इलाकों में आज भी गांव वाले मूलभूत सुविधाओं को तरस रहे है। उन्होंने कहा कि भाजपा कभी ग्रामीण क्षेत्र को विकसित नहीं कर सकती क्योंकि इनके जनप्रतिनिधि विकास की बड़ी-बड़ी बातें करके भूल जाते है।

दमदमा ने सांसद कटारिया को उनका वादा याद दिलाते हुए पूछा कि बरवाला क्षेत्रवासियों को मक्खियों की भिनभिनाहट से कब निजात दिलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सांसद रतन लाल कटारिया पिछले कई सालों से यहां विशेष टेक्नोलॉजी से क्षेत्रवासियों को मक्खियों की समस्या दूर करने की बड़ी-बड़ी बाते करते थे लेकिन आज भी यहां हालात जस के तस बने हुए हैं।

अंबाला लोकसभा क्षेत्र के जननायक जनता पार्टी के नेताओं ने कहा कि कटारिया केवल राष्ट्रवाद के नाम पर वोट हड़प कर सांसद बनकर बैठ गए है। उन्होंने कहा कि जेजेपी ऐसे बिना काम किए सांसद कटारिया को चैन से सोने नहीं देगी। उन्होंने कहा कि जेजेपी बार-बार जनहित के इन मुद्दों को उठाएगी और हल नहीं होने तक उनसे सवाल पूछती रहेगी।

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *