Home Breaking गरीब बच्चों की शिक्षा, गांवों में खेल, स्वास्थ्य सेवा को बढ़ावा देने की मांग

गरीब बच्चों की शिक्षा, गांवों में खेल, स्वास्थ्य सेवा को बढ़ावा देने की मांग

0

Umang Sheoran, Yuva Haryana

प्री-बजट चर्चा में बरवाला से जेजेपी विधायक जोगीराम सिहाग ने स्वास्थ्य संबंधी विषय पर सुझाव देते हुए कहा कि गांवों में उपचार के लिए ट्रेनी डॉक्टरों की संख्या बढ़ानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा ज्यादा से ज्यादा संख्या में मेडिकल स्टूडेंट्स को प्रशिक्षण देकर गांवों में रोजगार देना चाहिए। इससे ग्रामीण क्षेत्र में प्राथमिक उपचार की समस्या हल होगी क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र में जल्दी से उपचार की सुविधा उपलब्ध नहीं होती है।

गुहला से विधायक ईश्वर सिंह ने सरकार को सुझाव दिया कि कि इस बजट में एससी, एसटी वर्ग के लिए 27 प्रतिशत बजट का प्रावधान होना चाहिए। साथ ही उन्होंने आग्रह किया कि प्रदेश सरकार द्वारा संत रविदास जी का धाम धर्मनगरी कुरुक्षेत्र में बनाने की जो घोषणा की है उसके लिए इसी बजट में प्रावधान होना चाहिए।

नरवाना से जेजेपी विधायक रामनिवास वाल्मिकी ने मांग की कि अल्पसंख्यकों के लिए  नरवाना में गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय खोला जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हरियाणा में महात्मा गौतम बुद्ध को मानने वाले बुद्ध, सिख अल्पसंख्यकों के लिए अब तक ऐसा कोई विश्वविद्यालय नहीं खोला गया है। उन्होंने इसमें यह भी सुझाव दिया कि इस विश्वविद्यालय के लिए कुछ खर्चा समाज भी कर सकता है।

इसके अलावा विधायक रामनिवास वाल्मिक ने गरीब दलित, पिछड़ा वर्ग से जुड़े युवाओं को अच्छी शिक्षा प्रदान करने के लिए बेहतर उच्च शिक्षण संस्थान व हॉस्टल की मांग की। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षण संस्थानों की कमी के चलते प्राइवेट कॉलेज में पढ़ाई महंगी होती जो कि गरीब वर्ग की पहुंच से बाहर होती है इसलिए इस वर्ग से जुड़े विद्यार्थियों के लिए दिल्ली में अम्बेडकर हॉस्टल बनवाया जाना चाहिए ताकि वहां इन बच्चों को मुफ्त में रहने व शिक्षा लेने की व्यवस्था हो सके। वहीं उन्होंने कहा कि हरियाणा को शिक्षा के क्षेत्र में कोचिंग हब के रूप में विख्यात बनाया जाए ताकि यहां प्रदेश के बच्चों के साथ-साथ अन्य राज्यों के विद्यार्थी भी शिक्षा ग्रहण करने लिए आएं।

वहीं जुलाना से विधायक अमरजीत ढांडा ने कहा कि प्रदेश को खेलों में अग्रणी रखने के लिए गांवों में खेल को बढ़ावा देना चाहिए। इसके लिए गांवो में ज्यादा से ज्यादा खेल स्टेडियम और उनमें खिलाड़ियों की प्रेक्टिस के लिए बेहतर सुविधाएं उपल्बध होनी चाहिए।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणा-दिल्ली बॉर्डर सील कहने को लेकर सरकार का बड़ा फैसला, अनिल विज ने जारी किया नोटिस

Yuva Haryana, Chandigarh दिल्ली से सटे हरियाणा के इलाकों में कोरोना के बढते केसों को लेकर …