4 साल तक किसानों के लाखों-करोड़ों लूटकर अब 500 रुपये देकर वोट हथियाना चाहती है मोदी सरकार -निशान सिंह

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 2 Feb, 2019

जननायक जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने अंतरिम बजट में लोकलुभावन घोषणाएं करके आम लोगों और खासकर किसानों को चुनावी रिश्वत देने की कोशिश की है, लेकिन लोग जुमलेबाज भाजपा की इस चाल को समझते हैं और आम चुनाव में कड़ा सबक सिखाएंगे। निशान सिंह ने कहा कि मौजूदा सरकार ने ना किसानों के हित में अब तक कोई नेक कदम उठाया, ना इस सरकार से किसानों को कोई उम्मीद।

सरदार निशान सिंह ने कहा कि अंतरिम बजट चुना होने तक के जरूरी खर्चे मंजूर करवाने के लिए लाया जाता है, लेकिन मोदी सरकार ने अनैतिकता की सारी हदें पार कर इसमें ऐसी घोषणाएं की हैं, जो दो महीने बाद होने वाले आम चुनाव में मतदाताओं को प्रभावित कर सकती हैं।

निशान सिंह ने कहा कि इससे साफ दिखता है कि भाजपा सरकार की नीयत ठीक नहीं है और उसे सिर्फ वोट पाने से मतलब है। उन्होंने कहा कि जल्दबाजी और परंपरा के खिलाफ जाकर की गई इन घोषणाओं से लगता है कि भाजपा ने 2014 की तरह इस बार भी सिर्फ जुमले ही छोड़े हैं।

निशान सिंह ने कहा कि देश के लोग इस बात से ठगा महसूस करते हैं कि भाजपाईयों की चिकनी-चुपड़ी बातों में आकर उन्होंने 2014 में भाजपा की सरकार बनवा दी थी, लेकिन धरातल पर भाजपा की कोई भी घोषणा सही तरीके से लागू होती नहीं दिखी। एक बार फिर वोटों के ये सौदागर आकर्षक घोषणाएं कर लोगों के वोट खरीदना चाहते हैं।

लेकिन एक बार धोखा खा चुके आम लोग अब भाजपा की बातों में नहीं आने वाले। विशेषकर किसानों के संदर्भ में निशान सिंह ने कहा कि 6000 रुपये सालाना देने वाली योजना का कोई प्रारूप तक तय नहीं है और ना ही इस बारे में केंद्र सरकार ने बाकी दलों से कोई विचार विमर्श किया।

जेजेपी अध्यक्ष ने ये भी कहा कि अगर सरकार अंतरिम बजट में घोषणाएं करने पर आ गई थी, तो इसमें रोजगार, खेल, बिजली, सड़कों, शिक्षा आदि के बारे में क्यों जिक्र तक नहीं किया। निशान सिंह ने कहा कि इस बजट में किसानों को आर्थिक सहायता और आम लोगों को टैक्स छूट देने का मकसद सिर्फ उनके वोट हासिल करना था। इसलिए अन्य बहुत से विषय अंतरिम बजट में छुए ही नहीं गए।

सरदार निशान सिंह ने ये भी कहा कि देश के कई राज्यों के किसान आज सिंचाई के पानी के लिए तरस रहे हैं, जबकि कई राज्य हर साल बाढ़ की चपेट में आते हैं। इस समस्या के निदान के लिए प्रमुख नहरों को आपस में जोड़ना बहुत जरूरी है, जिसे पहले कांग्रेस सरकार और अब भाजपा सरकार लगातार टालती जा रही है। जिस देश में बुलेट ट्रेन के लिए 1 लाख करोड़ रुपये खर्च हो सकते हैं और बुतों पर भी हजारों करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं, वहां नहरों को जोड़ने की इस महत्वपूर्ण योजना पर खर्च करने के लिए खजाना खाली नजर आता है।

निशान सिंह ने मांग की कि केंद्र सरकार किसानों की कर्ज माफी, न्यूनतम समर्थन मूल्य और सिंचाई से जुड़ी मांगों पर गंभीरता से विचार करे और कारगर कदम उठाए।

देश के आम चुनाव के साथ हरियाणा के विधानसभा चुनाव करवाए जाने की चर्चाओं पर निशान सिंह ने कहा कि जेजेपी किसी भी समय विधानसभा चुनाव के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि भाजपा जरूर अपने फायदे को देखकर मनमाना फैसला लेगी, लेकिन हमारी पार्टी की तैयारी पूरी है और विधानसभा चुनाव चाहे अप्रैल में हो या अक्तूबर में, जेजेपी पूरी मजबूती से भाजपा के कुशासन का मुकाबला करेगी।

उन्होंने पूरे विश्वास के साथ कहा कि लोकसभा चुनाव में सबसे ज्यादा सांसद जेजेपी के बनेंगे और विधानसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत के साथ हरियाणा में जननायक जनता पार्टी की सरकार हरियाणा में बनाई जाएगी।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *