जज की पत्नी-बेटे के हत्याकांड में सजा पर बहस आज

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana, Gurugram

गुरुग्राम के बहुचर्चित जज के बेटे और पत्नी की गोली मारकर हत्या करने के मामले में जिला अदालत ने आरोपी गनमैन महिपाल को दोषी करार दिया है।  जिला अदालत ने आरोपी महिपाल को आईपीसी की धारा 302, 201, 17  और ऑर्म्स एक्ट -27  के तहत दोषी करार दिया है। वहीं आज इस मामले में आरोपित महिपाल की सजा को लेकर कोर्ट में सुबह ग्यारह बजे सुनवाई होगी।

आपको बता दें कि साल 2018 में हाई प्रोफाइल केस में आरोपी महिपाल ने एडिशनल जज के बेटे और पत्नी को गोलियां मारी थी, जिसके बाद दोनों की इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

13 अक्टूबर 2018  को गुरुग्राम में हुए इस हत्याकांड से पूरा देश सन्न रह गया था। संभवत हरियाणा के इतिहास का यह पहला मामला था जिस मामले में लोगों ने खुद सामने आकर की गवाही दी। इस हत्याकांड में 81 लोगों ने अपने नाम गवाही के रूप में दर्ज कराए थे। इनमें से 67 लोगों की गवाही कराई गई। 1 साल के भीतर गवाही की प्रक्रिया पूरी हो गई।

गौरतलब है कि 13 अक्टूबर 2018 को हिसार निवासी तत्कालीन जज कृष्णकांत की पत्नी रितु और बेटा ध्रुव सेक्टर 49 स्थित आर्केडिया मार्केट में शोपिंग करने के लिए पहुंचे थे। यहां पर वापस आने के बाद गनमैन ने चाबी मांगी थी, इसी विवाद में महिपाल ने गोलियां चला दी थी, जिसमें दो-दो गोलियां लगी थी।

इस घटना के बाद आरोपी बर्खास्त गनमैन महिपाल ने बेटे ध्रुव को गाड़ी में डालने की भी कोशिश की थी और वहां पर मौजूद लोगों ने बाद में दोनों को मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया था, लेकिन दोनों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *