मेवात में जम्मू कश्मीर की आसिफ़ा और उन्नाव मामले में इंसाफ दिलाने के लिए निकाला कैंडल मार्च

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Yunus Alvi, Yuva Haryana

Mewat (14 April 2018)

आठ साल की मासूम बच्ची आसिफ़ा के साथ गैंगरेप और हत्या करने तथा उन्नाव में लडकी के साथ रेप और उसके पिता के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए नूंह के पिनगवां में शातिंपूर्वक कैंडल मार्च निकाला गया। जिसमें सामाजिक, राजनैतिक और युवाओं ने भाग लिया।

कैंडल मार्च में पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट बार ऐसोसिएशन के सदस्य फारूख अबदुल्लाह, कांग्रेस के प्रदेश सचिव सहाब खां पटवारी, ऐडवोकेट गुलाम नबी आजाद काफी प्रमुख लोगों ने भाग लिया। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट बार ऐसोसिएशन के सदस्य फारूख अबदुल्लाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर और उन्नाव में जो हुआ वो दिल दुखाने वाली घटना थी।

वहीं उन्होंने जम्मू कश्मीर में आसिफा के रेपिस्टों को बचाने के विरोध हड़ताल और जय श्री राम के नारे लगाकर इसे धर्म से जोड़कर देखने वाले वकीलों की घटना से वह एक वकील होने के नाते शर्मशार हुए। उन्होंने कहा कि आज देश में रेप की घटनाएं हो रही है लेकिन सरकार और देश का प्रधानमंत्री आंख बंद कर बैठे हुए है।

कांग्रेस के प्रदेश सचिव सहाब खां पटवारी का कहना है कि रेप के मामलें में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को चुड़िया भेजने वाली स्मृति इरानी आज कहां है। रेप के मामलों में पूर्व की कांग्रेस सरकार को कोसने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज चुप क्यों हैं। उन्होंने कहा जब से केंद्र में भाजपा सरकार आई है तब से देश में जाति धर्म में देश को बांटने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा बलात्कारियों को फांसी की सजा का प्रावधान होना चाहिए।

यह भी पढ़ें-

खट्टर सरकार ने भीमराव अंबेडकर जयंती के अवसर पर की घोषणा, प्रदेश के हर जिले में बनेंगे अंबेडकर छात्रावास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *