‘ बडली कुर्सी इबकै थारी है समझो, मेरे हाथ मैं होगी कलम ‘ -किरण चौधरी

Breaking खेत-खलिहान चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

अमित शर्मा, तोशाम

तोशाम अनाज मंडी में धरने पर बैठे किसानों को कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने खुला समर्थन दिया और सरकार से तुरंत सरसों की खरीद शुरू करवाने व शर्तें हटाने की मांग की। अपने हलके में पहुंची किरण चौधरी ने खुलकर कहा कि वे हरियाणा की मुख्यमंत्री बनने की दावेदार हैं। किरण ने लोगों से कहा कि वे जब मुख्यमंत्री बनेंगी तो फटाफट काम होंगे।

किसानों को संबोधित करते हुए किरण बोली, ‘बडली कुर्सी इबकै थारी सै समझो, थाम चिंता ना करो, मेरे हाथ मै कलम होए पाछै थामैन बेरा सै मै किस्तरां काम काम करू सूं ‘। सीएलपी लीडर किरण चौधरी ने कहा कि किसान दो फसलें उगाता है और उन्हें बेचने के लिए धरना देना पड़ता है कितनी दुर्भाग्य की बात है। सीएलपी लीडर ने कहा कि मैने इस बात को विधानसभा में भी उठाया था। सरकार एक तरफ तो दाना-दाना खरीदने की बात करती है वहीं जब किसान फसल बेचने के लिए आते हैं उनके सामने शर्त लगा दी जाती है। ऐसे में किसान कैसे अपनी फसल को बेच सकता है।

किसानों के सामने हर रोज 25 क्विंटल जैसी जो शर्त लगा रखी है, इनकी वजह से किसान अपनी फसल मंडी में बेच ही नहीं सकता। शर्तों के कारण किसानों को अपनी फसल बाहर ओने-पोने दामों पर बेचनी पड़ती है। जिससे किसान को काफी नुकसान हो रहा है। सीएलपी लीडर ने कहा कि हमारा देश कृषि प्रधान देश है और सरकार किसानों की रीढ़ की हड्डी तोड़ने में लगी हुई है।

सीएलपी लीडर ने कहा कि सरसों खरीद का मामला जब विधानसभा में उठाया था उस समय मंत्री ने अगले दिन से सरसों की खरीद शुरू करवाने का आसवाशन दिया था लेकिन कई जगह आज तक खरीद शुरू नहीं हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *