KMP प्रोजेक्ट, सरकारी प्रोजेक्ट है जिसका नाम सरकार तय करती है, ये तय करने का अधिकार INSO को नहीं-स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का कहना है कि वैसे तो वो नाराज होते नहीं लेकिन नाराज हो जाएं तो फिर उन्हें मनाना मुश्किल है। प्रदेश की सियासत में आजकल विधायको-मंत्रियों की नाराज़गी की खूब चर्चा हैं। सरकार और समर्थकों के बीच डिनर और टी पॉलिटिक्स जोरों पर है। इसी बीच अनिल विज ने कहा है कि यूं तो मैं नाराज होता नहीं, नाराज हो जाऊं तो मानता नहीं। विज ने कहा कि मंत्री यदि अपने बिजी शेड्यूल में से चंद पल निकालकर इकट्ठे बैठकर चाय पी लें तो इसे किसी भी तरह से शक की निगाह से नहीं देखा जाना चाहिए।

वहीं एक्सप्रेस हाईवे KMP प्रोजेक्ट को लेकर इनैलो की छात्र इकाई INSO के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने इस प्रोजेक्ट का नाम पूर्व उप प्रधानमंत्री देवी लाल के नाम पर रखने की मांग की है। ऐसा ना होने पर इनसो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसका उद्घाटन ना होने देने की कही है। ऐसे में हरियाणा के स्वास्थ्य एवं खेल मंत्री अनिल विज ने इनसो को एक हानिकारक संगठन करार दिया है।

अम्बाला मे पत्रकारों से बातचीत करते हुए विज ने कहा कि इनसो डिस्ट्रक्टिव कार्यशैली की ओर बढ़ती जा रही है जो इनकी फ्रस्ट्रेशन का कारण है। क्योंकि उनकी राजनीतिक धरती पूरी तरह से उजड़ चुकी है। सरकारी प्रोजेक्ट का नाम सरकार तय करती है ये तय करने का अधिकार INSO को नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *