बेटे के लिए पिता ने बेची थी भैस, अब बेटे ने हरियाणा को हॉकी में दिलाया गोल्ड

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Kurukshetra, 21, Jan, 2019

कुरूक्षेत्र के गांव तयोड़ा का रहने वाला अभिषेक हॉकी में एक उभरता सितारा नजर आ रहा है। 17 वर्ष की आयु में अभिषेक ने खेलो इंडिया राष्ट्रीय प्रतियोगिता में हरियाणा टीम में शानदार प्रदर्शन कर टीम को स्वर्ण पदक जिताने में अहम भूमिका निभाई।

हरियाणा की टीम ने लीग मैचो में पंजाब,  झारखंड व चंडीगढ़ को हराककर फाइनल में जगह बनाई और फाईनल मुकाबले में हरियाणा ने पंजाब को 1-0 के अंतर से हरा कर विजयी रही। जिसमे अभिषेक का अहम योगदान रहा।

बता दें कि खिलाडी अभिषेक ने पिछले वर्ष रांची में हुई स्कूल नेशनल और राज्य स्तरीय हॉकी प्रतियोगिता में अपनी टीम को गोल्ड मेडल जीतने में अहम भूमिका निभाई थी। अभिषेक ने बताया कि कई बार गरीबी की वजह से खेल छोड़ने की भी बात सोचनी पड़ी। अभिषेक के पिता और साथियों ने हमेशा आगे बढ़ने के लिए हौसला बढ़ाते रहे हैं।

खिलाडी अभिषेक का कहना है कि हॉकी कोच गुरबाज सिंह से हॉकी की बारिकीयों के बारे में प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं।

अभिषेक का सपना है कि वह इंडिया के लिए हॉकी खेले। अभिषेक के पिता ने बताया कि एक बार उसके बेटे को टीम से बाहर निकाला जा रहा था क्योंकि उसके पास महंगी किट नहीं थी। दुधारू भैंस बेचकर उन्होंने अभिषेक को किट लेकर दी थी। बेटे की प्रतिभा को निखारने के लिए अभिषेक के पिता ने सरकार से मदद की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *