Home Breaking कुरुक्षेत्र में आयोजित कार्यक्रम से जुड़ी कुछ खात बातें, पढ़िए-

कुरुक्षेत्र में आयोजित कार्यक्रम से जुड़ी कुछ खात बातें, पढ़िए-

0
0Shares

Darshan Kait, Yuva Haryana

Kurukshetra, 12 Feb, 2019

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले चार वर्षों के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में लिए गए महत्वूपर्ण निर्णयों व कार्यों की जहां सराहना कर उनकी पूरी टीम की पीठ थपथपाई, वहीं दूसरी ओर वर्ष 2014 में पार्टी द्वारा उनको प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने उपरांत भूतपूर्व सैनिकों की रैली में वोट मांगने की उनकी अपील का समर्थन करने के लिए हरियाणा के लोगों का अभिवादन किया।

इसके साथ ही उन्होंने 2019 में होने वाले आगामी चुनाव में समर्थन के लिए हरियाणा की पावन धरा धर्मनगरी कुरूक्षेत्र से आहवान किया।प्रधानमंत्री आज कुरूक्षेत्र में स्वच्छता अभियान के तीसरे चरण स्वच्छ-शक्ति 2019 का शुभारंभ करने के अवसर पर संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर जम्मू कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश, राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, तेलंगाना, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, मेघालय व केंद्र शासित प्रदेश दमन एवं दीव की स्वच्छता-प्रेरकों को सम्मानित किया।

इनके गांवों वासियों को भी नमन किया, जिन्होंने महिला शक्ति का साथ देकर उदाहरण पेश किया है।  प्रधानमंत्री ने आशा व्यक्त की कि नारी शक्ति का यह समर्थन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की इसी वर्ष 2 अक्तूबर को होने वाले 150वीं जयंती पर स्वच्छ भारत राष्ट्र को समर्पित करने के लक्ष्य को आसान बनाएगा। उन्होंने कहा कि जब-जब वे हरियाणा के लोगों से आशिर्वाद लेने आते हैं, उन्होंने तब-तब लक्ष्य को हासिल किया है।

चाहे बेटी बचाओ,बेटी पढ़ाओ अभियान की बात हो, आयुष्मान भारत की बात या स्वच्छ भारत अभियान की सफलता की बात हो या 2014 में रेवाड़ी में भूतपूर्व सैनिकों से वन रैंक वन पैंशन के वायदे की बात हो। उन्होंने कहा कि इसी धरती से उन्हें सफलता मिली है। कुरूक्षेत्र तो वह धरा है जहां नैतिकता की अनैतिकता पर जीत हुई थी। महाभारत के कुरूक्षेत्र में हुए युद्घ में श्रीकृष्ण द्वारा अर्जुन को दिया गया मानवता के नाम पर गीता का संदेश आज भी प्रांसगिक है।

कुरूक्षेत्र को स्वास्थ्य व संस्कृति की धरती बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज यहां से हरियाणा के लिए करोड़ों रूपए की स्वास्थ्य को लेकर पांच परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया गया है, तो वहीं संस्कृति को लेकर पानीपत की तीसरी लड़ाई की जानकारी युवा पीढ़ी तक पहुंचाने के लिए संग्रहालय का शिलान्यास किया गया है।

उन्होंने रिमोट की जरिये राष्ट्रीय कैंसर संस्थान बाढसा व ईएसआईअस्पताल व मैडीकल कालेज फरीदाबाद का लोकार्पण किया और श्रीकृष्ण आयुष विश्वविद्यालय कुरूक्षेत्र,पंडित दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सा अनुसंधान विश्वविद्यालय करनाल, राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान पंचकूला का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि इन संस्थानों के बनने से लोगों का जीवन स्वस्थ व सुगम तो बनेगा ही हरियाणा के युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पर पैदा होंगे। उन्होंने रेवाड़ी जिला के मनेठी गांव में बनने वाले एम्स के लिए जमीन देने के लिए लोगों को साधुवाद भी दिया।

उन्होंने देश के कौने -कौने से आई स्वच्छता-प्रेरकों से आहवान किया कि वे दो दिन तक कुरूक्षेत्र में ठहराव के दौरान प्राप्त किए गए अपने भ्रमण के अनुभवों को एक प्रशिक्षण शिविर के रूप में लें और अपने-अपने क्षेत्र में जाकर उनको लागू करें।

प्रधानमंत्री ने साढ़े चार वर्षों के दौरान केंद्र सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस बजट में मातृशक्ति पर विशेष बल दिया गया है। कामकाजी महिलाओं के लिए प्रसूति अवकाश 12 से 26 सप्ताह किया गया है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 75 प्रतिशत ऋण महिलाओं को दिया जाता है।

उन्होंने कहा कि दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत 6 करोड़ स्वयं सहायता समूहों को 75,000 करोड़ रूपए के ऋण पिछले चार सालों में दिए गए। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 से पहले चार वर्र्षों  के दौरान महिलाओं, आशा वर्कस, आंगनवाड़ी वर्कर्स के लिए जितना कार्य किया था उसका ढ़ाई गुणा ज्यादा कार्य वर्तमान सरकार ने किया है।

मोदी ने कहा कि 15 अगस्त 2015 को लाल किले से जब मैंने स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय बनवाने की बात कही, तो कुछ लोगों ने उनका मजाक उड़ाया था, परंतु उन्हें इस बात की कोई परवाह नहीं की। आज मुझे खुशी है कि देश की स्वच्छता दर 40 प्रतिशत से बढ़कर 98 प्रतिशत तक पहुंच गई है।

उन्होंने कहा कि शौचालयों का निर्माण महिलाओं ने राज मिस्त्री की जगह रानी मिस्त्री बनकर किया है जो महिला सशक्तिकरण का एक मजबूत उदाहरण है और अब इनको प्रधानमंत्री आवास योजना के निर्माण कार्यों में भी लगाया जा सकेगा। उन्होंने देश से भ्रष्टाचार मिटाने व गंदगी हटाने के लिए अपनी प्रतिबद्धता जाहिर करते हुए कहा कि वे न झुकेंगे और न डरेंगे।

उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान एक अहम पड़ाव पर है और स्वच्छ-शक्ति का यह तीसरा चरण इस अभियान को सफल बनाएगा। उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के अनुसार स्वच्छ भारत अभियान चलने यहां उपस्थित महिला प्रेरक हैं।

हरियाणा को जय जवान,जय किसान का प्रदेश बताते हुए कहा कि गांव,गरीब व किसान का जीवन सरल बनाने के लिए वे प्रयत्नशील हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान निधि योजना की पहली किश्त शीघ्र ही किसानों के खाते में भेजी जाएगी।

मोदी ने प्रयागराज में चल रहे कुंभ-2019 मेला में स्वच्छता मानदंड अपनाने के लिए वहां के स्वच्छता कर्मियों को नमन किया। उन्होंने बताया कि वहां की स्वच्छता को लेकर न्यूयार्क टाइम्स ने भी अपने संपादकीय में विशेष उल्लेख किया है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने स्वच्छ शक्ति-2019 के तीसरे चरण की शुरूआत हरियाणा के कुरूक्षेत्र से करने के लिए प्रधानमंत्री का विशेष आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि कुरूक्षेत्र की धरा ने देश और दुनिया को गीता के माध्यम से जीवन जीने का संदेश दिया है। अब स्वच्छता का संदेश भी यहां से दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 में हरियाणा को पहला स्थान मिला है।, करनाल व रोहतक देश के सौ स्वच्छ शहरों की सूची में शामिल हुए हैं। इसके अलावा एमडीयू रोहतक को देश में स्वच्छ कैंपस का अवार्ड मिला है। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास रहेगा कि हरियाणा का रोहतक शहर देश के प्रथम 10 सवच्छ शहरों में शामिल हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पानीपत में 22 जनवरी 2015 को बेटी बचाओ,बेटी पढ़ाओं अभियान की जब प्रधानमंत्री ने शुरूआत की थी तो उस समय लिंगानुपात में सुधार एक चुनौति थी परंतु लोगों के सहयोग से हम उसमें सफल रहे हैं। वर्ष 2001 में प्रदेश में लड़कियों का लिंगानुपात 819 था, 2011 मे 830 और अब सुधर कर यह 922 तक पहुंच गया है।

उन्होंने बताया कि पिछले चार वर्षों में 44 नए लड़कियों के कालेज खोले गए हैं जबकि पूर्व की सरकारों के कार्यकाल में हरियाणा में केवल 31 ही खोले गए थे। उन्होंने हर 20 किलोमीटर की परिधी में लड़कियों के कालेज खोलने का सरकार का लख्य है। नारी सुरक्षा को लेकर 30 महिला थाने खोले गए हैं, जबकि पहले मात्र 2 ही थे।

मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि हरियाणा पुलिस में महिलाओं की भागीदारी 30 प्रतिशत तक पहुंचाने का लक्ष्य है, हमारी सरकार ने ही इसको 6 से 10 प्रतिशत तक बढ़ाया है। प्रधानमंत्री ने हरियाणा सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए उठाए जा रहे कदमों की सराहना स्वयं ताली बजाकर की।

स्वच्छता के लिए प्रेरणा देने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वक्तव्यों पर आधारित पुस्तक- स्वच्छ भारत- संकल्प से सिद्घ्रि, का हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने विमोचन किया व इसी प्रथम प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंपी। बाद में रिमोट से इस पुस्तक के ई-संस्करण को भी लांच किया।

केंद्रीय पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री सुश्री उमा भारती ने अपने संबोधन में कुरूक्षेत्र को महिला शक्ति की धरती बताते हुए कहा कि इसी धरती पर महिला सम्मान के लिए महाभारत हुई थी। स्वच्छता चैंपियनों को बधाई देते हुए कहा कि भारत को ओडीएफ प्लस बनाने में महिलाओं की विशेष भागीदारी रहेगी।

हरियाणा की महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने प्रधानमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि आपके प्रेरणादायक नेतृत्व से महिला सशक्तिकरण सफलता की ओर बढ़ रहा है। हरियाणा सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण और स्वच्छता के क्षेत्र में उठाए जा रहे कदमों की विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में 31 लाख तथा शहरी क्षेत्र में 67 हजार शौचालयों का निर्माण करवाया गया है। इसके अलावा 131 ठोस कचरा व 414 तरल कचरा प्रबंधन के संयंत्र लगाए गए हैं। शहरों को भी ओडीएफ प्लस प्लस करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा की उपाध्यक्ष श्रीमती संतोष यादव, सामाजिक न्याय एवं आधकारिता मंत्री कृष्ण कुमार बेदी, खाद्य ,नागरिक आपूर्ति एवं उपभौकता मामले राज्य मंत्री करण देव कंबोज, हरियाणा के मुख्य सचिव डी.एस ढ़ेसी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर, राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला,भाजपा के कई विधायकों समेत मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन भी उपस्थित थे।

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

‘युवा हरियाणा टॉप न्यूज’ में पढ़िए आज की सभी बड़ी खबरें फटाफट

Yuva Haryana, Top News Top News Yuva Haryana 05 july 1. हरिया…