गुरुग्राम में फिर बड़ा जमीन घोटाला, 2400 से 2500 करोड़ के घोटाले की आशंका

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष
Manu Mehta, Yuva Haryana
Gurugram, 15 Jan, 2019
लगातार सुर्खियों में रहने वाला साइबर सिटी गुरुग्राम एक बार फिर जमीन घोटालों को लेकर सुर्खियों में बना हुआ है गुरुग्राम के 209 एकड़ जमीन घोटाले का मामला सामने आया है जिसमें सरकारी जमीन और जमीदार की जमीनों का घोटाला इस कदर किया गया है कि पिछले कई दशकों की सरकारें भी इस घोटाले का समर्थन करते नजर आए हैं गुरुग्राम के आरटीआई एक्टिविस्ट हरविंदर ढींगरा ने अपनी आरटीआई के थ्रू गुरुग्राम में लगातार हो रहे जमीन घोटाले का पर्दाफाश किया है जिसमें आरडी सिटी के अलावा सेक्टर 51 52 का जमीन घोटाला स्पष्ट तौर पर सामने आया है।
इस पूरे मामले में टोटल जमीन 209 एकड़ थी जिस में 58 एकड़ जमीन को बिल्डरों ने ज्वाइंट कोलैबोरेशन और हुड्डा की जमीन को झूठे कागजात देकर बेच दिया अगर हुड्डा विभाग की जमीन की बात करें तो तकरीबन 16 से 17 एकड़ जमीन हुड्डा विभाग की थी जो की शिकायत करने के बाद कोर्ट ने इस जमीन को जल्द से जल्द रिकवर करने के भी आदेश दिए थे मगर आज तक इस जमीन को ना तो रिकवर किया गया है और ना ही किसी सरकार ने इसके खिलाफ कोई जांच के आदेश दिए हैं।
बाकी कि 42 एकड़ जमीन ज्वाइंट कोलैबोरेशन जॉइंट कोलैबोरेशन कर सेल कर दी गई इस पूरे घोटाले में तकरीबन डेढ़ दर्जन कंपनियों ने मिलकर इस पूरी जमीन को बेचा और झूठे कागजात देकर जमीन को अपने नाम कर सरकार को गुमराह किया जो जमीन जमीदार की थी वह तो कोलोब्रशन कर बेच दी गई और उसी की आड़ में सरकार की जो जमीन यानी हरियाणा डेवलपमेंट अथॉरिटी की 16 एकड़ जमीन को भी बेच दिया गया जिसकी रिकवरी की फाइलें कई बार लगी मगर आज तक कोई कार्यवाही नहीं देखने को मिली।

इस पूरे मामले में किये गए घोटाले की कीमत तकरीबन 2400 से 2500 करोड़ मानी जा रही है इस घोटाले के पर कोई कार्रवाई या फिर कोई हल इस मामले का नजर नहीं आ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *