विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को लेकर छिड़ सकती है नई जंग, इनेलो-कांग्रेस विधायकों की संख्या हुई बराबर

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Chandigarh, 07 Feb,2019

हरियाणा विधानसभा में अब नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को लेकर नई लड़ाई छिड़ सकती है। दरअसल जींद उपचुनाव को जीतने के साथ हरियाणा विधानसभा में बीजेपी विधायकों की संख्या अब 48 हो चुकी है और कांग्रेस और इनेलो विधायकों की संख्या 17-17 हो गई है। जिसमें से नैना चौटाला समेत तीन इनेलो विधायक पहले ही जेजेपी के साथ चले गए, और अब पिरथी नंबरदार भी दुष्यंत चौटाला के साथ खड़े हैं।

ऐसे में नेता प्रतिपक्ष का पद अब दिलचस्प हो गया है। अगर कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष के पद को लेकर दावा कर दें तो बाजी कांग्रेस के हाथ लग सकती है। इस पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का कहना है कि जब इनेलो के कई विधायक जननायक जनता पार्टी के साथ खड़े हैं तो विधानसभा अध्यक्ष को खुद संज्ञान लेना चाहिए।

बता दें साल 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 47, इनेलो को 19 और कांग्रेस को 15 सीटें मिली थी, लेकिन चुनाव के बाद हजकां पार्टी का कांग्रेस में विलय होने के बाद हजकां के कुलदीप बिश्नोई और रेणुका बिश्नोई कांग्रेस विधायक हो गए, जिससे कांग्रेस विधायकों की संख्या 17 हो गई।

वहीं जींद से इनेलो विधायक हरिचंद मिडढा औऱ पेहवा से इनेलो विधायक जसविंदर संधू के निधन के बाद पार्टी के विधायकों की संख्या कांग्रेस के बराबर 17 हो गई। ऐसे में अब नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को लेकर मामला दिलचस्प हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *