कलयुगी मां ने दुधमुंहे बच्चे को झाड़ियों में फेंका, राहगीर ने झाडियों में पड़ा देख पहुंचाया अहस्पताल

Breaking अनहोनी

राजेश शर्मा

अंबाला, (18 मार्च 2018)

अंबाला में एक बार फिर इंसानियत को शर्मसार कर देने का मामला सामने आया है। एक कलयुगी मां ने अपने दूधमुंहे बच्चे को झाड़ियों में लावारिस हालत में छोड़ दिया। सूकुन की बात यह रही की समय रहते लोगों की नजर उस बच्चे पर पड़ गई ओर उसे बचा लिया गया। बच्चे को हस्पताल पहुंचाने वाले राहगीर हरप्रीत का कहना है कि जब वह अपने काम से  घर लौट रहा था तो उसे घर के पास लोगों की भीड़ जमा हुई दिखी, उसने देखा कि वहां झाड़ियों में एक नवजात पड़ा हुआ था, जिसके बाद उसने तुरंत 1098 पर फोन कर के मामले की जानकारी दी और नवजात को लेकर वह तुरंत अस्पताल आ गया।

वहीं नवजात का ईलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया कि युवक द्वारा नवजात को अस्पताल लाने के बाद उसकी गंभीर हालात को देखते हुए उसे तुरंत इलाज़ दिया गया। नवजात की हालत अब पहले से बेहतर है और डॉक्टर एवं उनका पूरा स्टाफ बच्चे का पूरा ध्यान रख रहें हैं ।

मामले की सूचना मिलते ही मौके पर चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के अधिकारी भी पहुंच गए। मौके पर पहुंचे  CWC के सदस्य का कहना है कि जैसे ही उन्हें मामले की सूचना मिली तो वह तुरंत अस्पताल पहुंचे और मामले की जानकारी ली , बहरहाल नवजात का इलाज जारी है ।  CWC सदस्य ने बताया कि जहां से ये नवजात मिला , वहां लोगों की भीड़ होने के बाद भी किसी भी तमाशबीन ने इस बच्चे को  अस्पताल पहुंचाने की जहमत नही उठाई लेकिन  इस युवक द्वारा नवजात को अस्पताल पहुंचाना वास्तव में काबिले तारीफ है।

Leave a Reply </