Home Breaking बिजली विभाग की लापरवाही से कर्मचारी करंट लगने से झुलसा, हालत गंभीर

बिजली विभाग की लापरवाही से कर्मचारी करंट लगने से झुलसा, हालत गंभीर

0

Yuva Haryana

Hisar, 24 March, 2019

हिसार के उपतहसील उकलाना के समीप गांव भैरी अकबरपुर में बिजली की लाइन पर काम कर रहे एक युवक के झुलस जाने का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार भुना निवासी ठेकेदार ने अपने कुछ प्राइवेट कर्मचारी गांव भैरी अकबरपुर में तार बदलने के लिए लगाए हुए थे।

गांव में पुरानी तारे बदलने का काम चल रहा था जिसका परमिट लिया हुआ था। लेकिन अचानक लाइट आ जाने के कारण बिजली के पोल पर काम कर रहे बैजलपुर निवासी अमन को करंट लगा और वह नीचे जमीन पर आ गिरा।

अमन को तुरंत प्रभाव से उकलाना के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया जहां से उसकी हालत गंभीर होने के कारण उसे हिसार रेफर कर दिया गया। इस मामले को लेकर जब बिजली विभाग के कर्मचारियों और ठेकेदार से बात करनी चाही तो सभी ने अपना पक्ष रखने से मना कर दिया और बचते हुए नजर आए।

इस पूरे मामले को लेकर बिजली विभाग के एसडीओ से जानकारी लेनी चाही तो उन्होंने कहा कि उन्हें यह मामला अभी संज्ञान में आया है और इसकी पूछताछ जारी है।

बिजली विभाग की लापरवाही के चलते अमन की हालत गंभीर बताई जा रही है, वहीं बिजली विभाग के अधिकारी इसे ठेकेदार की लापरवाही बता रहे हैं। बिजली विभाग के एक्शन टोहाना ने कहा कि पूरे मामले की जांच चल रही है और जो भी इस मामले में दोषी मिलेगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

जानकारी के लिए बता दें कि गांव भैरी अकबरपुर में पुरानी तारे बदलने का काम चला हुआ है, और गांव से 2 लाइनें डीएस और ए एपी गुजरती हैं। विभाग के अनुसार तो ठेकेदार ने एपी लाइन पर काम शुरू किया हुआ था और डीएस लाइन में बिजली छोड़ी गई जबकि ठेकेदार का मत इससे बिल्कुल अलग है।

अब यह तो जांच में ही स्पष्ट हो पाएगा की इसमें बिजली विभाग की लापरवाही है या ठेकेदार की।

लेकिन फिलहाल कर्मचारी की हालत गंभीर बताई जा रही है। वहीं मामला यह भी सामने आया है कि ठेकेदार ने जिन कर्मचारियों को काम करने के लिए लाइन पर लगाया हुआ है उनमें से कोई भी डिप्लोमा होल्डर नहीं है, और ना ही किसी कर्मचारी के पास कोई करंट विरोधी उपकरण मौजूद थे, ताकि इस प्रकार के हादसे से बचा जा सके।

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

सरकारी स्कूलों में कार्यरत 1983 पीटीआई को राहत, फिलहाल बने रहेंगे पद पर

Yuva Haryana, Chandigarh स्कूल शिक्षा विभाग 1983 पीटीआई हटाने के आदेशों पर मौखिक रूप से रो…