मिट्टी में धसे श्रमिक का मिला साढ़े 22 घंटे बाद शव, टॉयलेट की कुई की खुदाई के दौरान गिरा था

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Ajay Atri, Yuva Haryana

Rewari, 20 August, 2018

टायलेट की खुदाई करते वक्त मिट्टी में धंसने से दबे श्रमिक का रेस्कयू ऑपरेशन के बाद शव निकाला गया है।

वहीं श्रमिक को निकालने के लिए मौके पर पहुंची आईटीबीपी टीम का रेसक्यू आपरेशन ढाई घंटे चला। जिसके बाद श्रमिक तो मिला, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी।

दरअसल हुआ हुआ यूं कि राजस्थान के अलवर जिले का रहने वाला करीब 25 वर्षीय गुलशन रेवाड़ी के मोहल्ला साधुशाह में रहता था। वह मजदूरी करके अपने परिवार का पेट पालता था। बीते दिन वह गांव गोठड़ा टप्पा डहीना में एक व्यक्ति के कहने पर टायलेट कुई की खुदाई करने के लिए गया था।

बताया जाता है कि पहले उसे 20 फुट कुई खोदने के लिए कहा गया। इसके बाद जब उसे 5 फुट और खुदाई करने के लिए कहा गया, तो उसने मना कर दिया और अपनी मजदूरी मांगी, लेकिन उसे कहा गया कि 5 फुट और खुदाई करने के बाद ही मजदूरी मिलेगी। वह खुदाई कर ही रहा था, तभी अचानक मिट्टी खिसक गई और वह मिट्टी के नीचे दब गया।

इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने जेसीबी की मदद से श्रमिक को निकालने की कोशिश की। जब कामयाबी नहीं मिली, तो आज सुबह आईटीबीपी की टीम घटनास्थल पर पहुंची और रेसक्यू आपरेशन शुरू किया। मगर करीब 22 घंटे बीतने के बावजूद अभी तक श्रमिक का कुछ अता-पता नहीं चल सका है। वहीं रेसक्यू आपरेशन जारी है।

अब देखना होगा कि आखिर रेसक्यू टीम श्रमिक को निकालने में और कितना वक्त लेती है। वहीं इस घटना के बाद श्रमिक की पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल हो चला है। उसके दो छोटे-छोटे बच्चे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *