मानेसर लैंड डील मामलाः पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को मिली जमानत

Breaking चर्चा में देश बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा

Umang Sheoran, Yuva Haryana
Panchkula, 1 May, 2018

मानेसर जमीन अधिग्रहण मामले में पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत ने हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को जमानत दे दी है, कोर्ट ने पांच लाख रुपये के निजी मुचलके पर हुड्डा को जमानत दी है।

अब इस मामले में अगली सुनवाई 31 मई को होगी वहीं पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा को अपना पासपोर्ट नहीं जमा करवाना होगा ।

इस मामले में तीन आईएएस अधिकारियों को पिछली सुनवाई के दौरान बेल मिल गई थी, जबकि मामले में भूपेंद्र हुड्डा समेत 34 आरोपी बनाए गए हैं।

आज सुबह जल्दी ही पूर्व मुख्यमंत्री अपने साथियों के साथ पंचकूला की विशेष सीबीआई कोर्ट व्यक्तिगत तौर पर पहुंच गए थे,  उनके साथ बेटे दीपेंद्र हुड्डा के अलावा अन्य वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और विधायक मौजूद थे।

इस मामले में आरोप है कि अगस्‍त 2014 में निजी बिल्डरों ने हरियाणा सरकार के अज्ञात जनसेवकों के साथ मिलीभगत कर गुड़गांव जिले में मानसेर, नौरंगपुर और लखनौला गांवों के किसानों और भूस्वामियों को अधिग्रहण का भय दिखाकर उनकी करीब 400 एकड़ जमीन औने-पौने दाम पर खरीद ली थी।
कांग्रेस की तत्कालीन हुड्डा सरकार के कार्यकाल के दौरान करीब 900 एकड़ जमीन का अधिग्रहण कर उसे बिल्डर्स को औने-पौने दाम पर बेचने का आरोप है।
मानेसर लैंड डील मामले में सीबीआई की तरफ से करीब 80 हजार पेजों की चार्जशीट दाखिल की गई है, जो दो लोहे की अलमारियों में भरकर लाई गई थी।
इस लैंड डील की शिकायत मानेसर के पूर्व सरपंच ओमप्रकाश यादव ने प्रदेश सरकार से की थी जिसके बाद सरकार ने इससे सीबीआई को सौंपा था।