Home बड़ी ख़बरें भिवानी में सवारी ऑटो चलाने वाली पहली महिला होंगी मंजू, पति को लकवे के बाद संभाली परिवार की कमान

भिवानी में सवारी ऑटो चलाने वाली पहली महिला होंगी मंजू, पति को लकवे के बाद संभाली परिवार की कमान

0
0Shares

कहते हैं पति-पत्नी मुश्किल घड़ी में एक-दूसरे का सहारा बनते हैं। अक्सर हमने कितनी ही मिसाल देखी होंगी जो यह कथन सही साबित करती है। ठीक ऐसा ही एक मामला भिवानी में भी देखने को मिला। जहा मंजू नाम की महिला सड़कों पर ऑटो चलाती नज़र आएगी। अब कहेंगे इसमें खास क्या है तो इसमें खास ये है कि मंजू के पति को अचानक लकवा हो गया। जिससे वह काम-काज पर नहीं जा सकता। लेकिन मंजू ने तो हिम्मत नहीं हारी और पति की जिम्‍मेदारी संभाल ली।

पति और परिवार की देखभाल करने के लिए मंजू ने अब ऑटो चलाने की ठान ली है। वह शहर की सड़कों पर ऑटो दौड़ाएगी। खास बात ये है कि उसका ऑटो स्पेशल महिलाओं के लिए ही चलेगा। शहर में सवारी ऑटो चलाने वाली मंजू पहली महिला है।

मंजू ने बताया कि वह  2013 से भिवानी में रह रही है। उसका 11 साल का बेटा है। मह कपड़े की सेल का काम करते थे जो सही चल रहा था। अचानक पति बीमार हो गए और परिवार जरूरतों की मुसीबत सामने आ खड़ी हुई। मंजू ने हार नहीं मानी और कुछ दिन कपड़े की सेल लगाई, लेकिन पति की सेवा और सेल का काम संभालना उसके लिए मुश्किल हो रहा था। ऐसे में ऑटो चला कर गुजारा करने का निर्णय लिया। मंजू ने ऑटो चलाने की ट्रेनिंग ली और लाइसेंस भी बनवा लिया।

अब मंजू कहती है कि वह महिलाओं और लडि़कयों के लिए ही ऑटो चलाएगी। ऑटो चलाने में आने वाली दिक्कतों के बारे में वह कहती हैं कि खुद इंसान ठीक हो तो उसे दिक्कतें नहीं आती। यह उसके लिए जीवनयापन का साधन है।

Read This Story

अनिल विज ने किया तीखा वार- कहा करण दलाल तो रोज सरकार का इस्तीफा लेकर सोते हैं

 

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In बड़ी ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

हरियाणा में सरकारी दफ्तरों में कर्मचारियों अधिकारियों की ड्यूटी को लेकर दिशानिर्देश, देखें

Yuva Haryana, Chandigarh हरियाणा लॉ&…