एमबीबीएस स्टुडेंट और मंत्री के बीच गर्माया मामला, दोनों पक्षों के बीच जमकर हुई हाथापाई

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Pradeep Dhankhar, Yuva Haryana
Jhajjar, 7 September 2019 
पिछले चार दिनों से झज्जर के श्रीराम पार्क में चल रहे एमबीबीएस के छात्रों का धरना व आमरण अनशन कार्यक्रम में आज नया मोड़ आ गया। धरना दे रहे छात्र-छात्राओं के बीच पहुंचे सूबे के कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ को छात्रों के जबरदस्त विरोध का सामना करना पड़ा। हालांकि इस बारे में छात्रों का कहना है कि मंत्री के साथ आए पुलिस कर्मियों ने धरना दे रही छात्राओं के साथ हाथापाई की। तो वहीं मंत्री ओपी धनखड़ का कहना है कि वे तो उनके समाधान के लिए वहां गए थे कि छात्र उग्र हो गए। मामला इतना बढ़ा कि छात्रों ने जमकर मंत्री व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और मंत्री के साथ आए लोगों को तो भागकर जान छुड़ानी पड़ी।

बता दें कि गुरावड़ा स्थित वर्ल्ड कालेज के एमबीबीएस तृतीय वर्ष के छात्र पिछले चार-पांच दिनों से धरना व आमरण अनशन पर बैठे हैं। उन्होंने इस मामले में राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, सीजेआई व सीएम हरियाणा को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु तक की मांग की है। उनका कहना है कि संस्थान की लापरवाही के कारण उनका भविष्य अंधकारमय नजर आ रहा है। संस्थान की ओर से उनको पढ़ाने के लिए न प्रोफेसर हैं और न ही लैब। इस मामले में डीसी झज्जर दोनों पक्षों को सुन चुके हैं मगर नतीजा अभी तक शून्य है।

इसी कड़ी में शुक्रवार को प्रदेश के कृषि मंत्री ओपी धनखड़ अपने लाव-लश्कर के साथ धरना दे रहे छात्रों के बीच पहुंचे। चंद घड़ी बात शांत माहौल में  हुई और उसके फौरन बाद मामला तू-तड़ाक से आरम्भ होकर हाथापाई तक आ गया। मंत्री के साथ चलने वाले पुलिस के लाव लश्कर पर छात्रों के साथ मारपीट तक करने के आरोप हैं।

मामला इतना बढ़ा की मंत्री को वहां से निकलना पड़ा और भविष्य के डाक्टर गला फाड़कर मंत्री व सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। मंत्री के साथ गए छोटे नेताओं को तो भागकर जान बचानी पड़ी। दूसरी ओर मंत्री ओपी धनखड़ ने इस मामले में कहा कि वे तो छात्रों का मामला सुलझाने गए थे कि अचानक वे उग्र हो गए। उन्होंने कहा कि इस मामले में उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से बात की है और यह मामला जल्द ही सुलझा लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *