न्यूनतम वेतन न मिलने पर आंगनबाड़ी वर्कर्स ने जेल भरो आंदोलन के फॉर्म भरे

Breaking बड़ी ख़बरें रोजगार हरियाणा

पिछले लगभग एक महीने से प्रदेश भर के जिला मुख्यालयों में घरने पर बैठी आंगनबाड़ी वर्कर्स कल 9 मार्च को जेल भरो आंदोलन चलाएंगी। इसके चलते आज भिवानी उपायुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन करते हुए भिवानी जिला की आंगनबाड़ी वर्कर्स ने आज अपने जेल भरो के फॉर्म भरे। इन फॉर्मो में इन महिलाओं ने अपने नाम, पता, कहां पोस्टेड है आदि का विवरण दर्ज कराया।

बता दें कि विधानसभा सत्र के चलते आंगनबाड़ी वर्कर्स ने सरकार पर अपना दबाव बढ़ा दिया है। आंगनबाड़ी वर्कर्स की महासचिव राजबाला ने बताया कि प्रदेश भर की आंगनबाड़ी वर्कर्स और हैल्पर्स का मानदेय सरकार ने 11 हजार रूपये तक बढ़ा दिया है। परन्तु इन आंगनबाड़ी वर्कर्स की मांग है कि सरकार उन्हे पक्का कर्मचारी का दर्जा दे और पक्के कर्मचारी का दर्जा दिए जाने तक आंगनबाड़ी वर्कर्स को 18 हजार रूपये न्यूनतम वेतन दे तथा हैल्पर्स को 9500 रूपये मानदेय दे।

हरियाणा सरकार पोषाहार, शिक्षा, समाजकल्याण जैसी दर्जन भर योजनाओं को लेकर आंगनबाड़ी वर्कर्स और हैल्पर्स से काम लेती है। ऐसे में आंगनबाड़ी वर्कर्स काम को देखते हुए न्यूनतम वेतन की मांग पर अड़ी हुई है। आंगनबाड़ी वर्कर्स की जेल भरो आंदोलन को देखते हुए जिला प्रशासन ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। प्रदेश के हर जिला स्तर पर कल आंगनबाड़ी वर्कर्स व हैल्पर्स अपनी गिरफ्तारियां देंगी।