अधिकारियों की मिलीभगत से सरसों में हो रही है मिलावट, जांच के नाम पर लीपापोती का आरोप

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Jagbeer Ghanghas, Yuva Haryana

Bhiwani, 25 May, 2018

भिवानी में हैफेड के ठेकेदारों ने जमकर हंगामा किया। ठेकेदारों का आरोप है कि हैफेड के अधिकारी सरसों में बाजरे, गेहूं व रेत की मिलावट कर करोड़ों रूपये का घोटाला कर रहे हैं। ठेकेदारों ने पूरे मामले की जांच की मांग की है। वही अधिकारी इस पूरे मामले में जांच के नाम पर लीपापोती कर रहे हैं।

हैफेड गोदाम में जिला मनैजर के कार्यालय में हंगामा किसी आम बात को लेकर नहीं, बल्कि मिलावटखोरी व करोड़ों रूपये के घोटाले के लेकर है। ठेकेदारों का आरोप है कि सरसों में मिलावट की गई है, जिसे आगे नहीं लिया जाता और ऐसे में ट्रकों के बार-बार चक्कर लगने से उन्हे लाखों रूपये का नुकसान हो रहा है। अपने नुकसान को लेकर ठेकेदार हंगामा कर रहे हैं और अधिकारी है कि कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

ठेकेदार विजय बंसल का आरोप है कि उन्होंने हैफेड में खाद्य पदार्थो की ढूलाई का ठेका लिया हुए है, लेकिन अधिकारी उनसे सरसों की ढूलाई करवा रहे हैं। विजय का आरोप है कि खरीद करने के बाद सरसों में गेहूं, बाजरा व रेत मिलाया गया है, जिसे आगे कोई नहीं ले रहा। टैणी ने बताया कि सरसों का भाव चार हजार रूपये क्विंटल है और बाजरा 1200 तो गेहूं 1700 है। ऐसे में प्रति क्विंटल 15 से 20 फीसदी रेत, बाजरे व गेहूं की मिलावट कर करोड़ों रूपये का घोटाला यहां किया गया और इस मिलावटखोरी से उन्हे लाखों रूपये का नुक्सान हुआ है।

वही जब इस बारे में हैफेड के जिला मैनेजर होशियार सिंह से बात की तो पहले वो बचते नजर आए और फिर पूरे मामले की जांच कर दोषियों को सजा दिलाने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *