मां और बेटा गए थे घर के बाहर कूड़ा डालने, 23 दिन बाद भी नहीं चला कुछ पता

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

 

Ajay Atri, Yuva Haryana

Rewari, 19 Sep, 2018

रेवाड़ी में एक मां और 4 वर्षीय बेटा कूड़ा डालने घर से बाहर गए थे कि आज तक वापस ही नही लौटे। 25 दिन बीत जाने के बाद भी परिवार रोज सड़क किनारे खड़ा होकर इंतजार कर रहा है। उनको उम्मीद है कि वो जरूर लौटकर वापस अपने घर आएंगे।

पुलिस को शिकायत दिए आज पूरे 23 दिन बीत चुके हैं, लेकिन रेवाड़ी की स्मार्ट पुलिस उनका कहीं भी आज तक कोई सुराग नहीं निकाल पाई है। परिजन जब पुलिस से पूछने जाते हैं, तो उन्हें यह कहकर लौटा दिया जाता है कि वह किसी के साथ अपनी मर्जी से चली गई होगी।

परिजनों ने भी अपने स्तर पर दोनों की खोजबीन की, लेकिन अभी तक कोई सुराग नही लग रहा है। अब पूरा परिवार सदमें में है। पति किसी निजी कम्पनी में नौकरी करता है। वो भी उसी दिन से अपनी नौकरी छोड़ पत्नी की तलाश में दर-दर की खाक छान रहा है।

पुलिस ने जब उसकी पत्नी की कॉल डिटेल निकलवाई, तो आखरी बार गांव झाबुआ निवासी मनोज की मिली है। वहीं मनोज भी उसी दिन से लापता है। पीड़ित युवक ने बताया कि उसकी पत्नी और आरोपी मनोज पहले एक साथ पढ़ते थे। उसका 5 वर्षीय एक बेटा और भी है, जो उसके पास ही है।

पीड़ित परिवार ने इसकी जानकारी पुलिस को भी दी है कि मनोज ने ही उसकी पत्नी और 4 वर्षीय मासूम को अगवा किया है। इस बात को लेकर पीड़ित पति गांव झाबुआ में जाकर दो बार पंचायत भी कर चुका है। पंचायत ने आरोपी पक्ष को खूब लताड़ लगाई और यह भी कहा कि उनके बच्चे और बीवी को लौटा दो, लेकिन पंचायत का भी उन पर कोई असर नही हुआ।

इतना ही नही, पीड़ित पति इसकी शिकायत प्रशासनिक अधिकारियों सहित CM विंडो पर भी कर चुका है, लेकिन पुलिस और प्रशासनिक तंत्र से अब उनका भरोसा उठ चुका है। ऐसे में उन्होंने मीडिया से एक उम्मीद जताते हुए कहा कि मेरी नज़रें अब उनका सहयोग चाहती है। वहीं पुलिस अभी इस मामले पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

अब देखना होगा कि पीड़ित युवक को उसकी पत्नी और बेटा पुलिस कब तक दिला पाएगी या फिर उसे मायूसी के साथ ही जीवन जीना पड़ेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *